Yuvraj Singhs father trending on social media, here is the reason | किसानों के समर्थन में Yuvraj Singh के पिता ने हिंदुओं के लिए कही ऐसी बात, भड़क उठे लोग

0
15

नई दिल्ली: अपने बयानों को लेकर अक्सर विवादों में रहने वाले योगराज सिंह (Yograj Singh) किसान आंदोलन के समर्थन में कुछ ऐसा कह गए हैं कि उनके खिलाफ लोगों का गुस्सा भड़क उठा है. सोशल मीडिया पर क्रिकेटर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) के पिता के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है. उन्हें गिरफ्तार करने की मांग भी हो रही है. योगराज ने किसानों के समर्थन में हिंदुओं को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की है, जिस पर बवाल मच गया है. 

भूले शब्दों की मर्यादा
युवराज सिंह (Yuvraj Singh) के पिता योगराज (Yograj Singh) किसान आंदोलन (Farmer Protest) का समर्थन करने के लिए पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने भाषण भी दिया, जिसमें वह शब्दों की मर्यादा ही भूल गए. उन्होंने हिंदुओं के लिए गद्दार शब्द इस्तेमाल किया. योगराज ने कहा, ‘ये हिंदू गद्दार हैं, सौ साल मुगलों की गुलामी की’. इतना ही नहीं, उन्होंने महिलाओं को लेकर भी विवादास्पद बयान दिया, जिसके बाद से सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. ट्विटर पर #ArrestYograjSingh ट्रेंड कर रहा है.

यह भी पढ़ें -Farmer Protest LIVE: किसान आंदोलन को लेकर PM आवास पर बड़ी बैठक, शाह-राजनाथ और Narendra Singh Tomar शामिल

योगराज के भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. नाराज लोगों का कहना है कि युवराज सिंह के पिता ने जिन शब्दों का इस्तेमाल किया है, उसके लिए उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. उनकी गिरफ्तारी की मांग भी हो रही है. सोशल मीडिया पर लोग अलग -अलग तरह से योगराज पर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं. एक यूजर ने लिखा है, ‘पहले इस व्यक्ति ने अपनी पत्नी और बेटे युवराज को अपशब्द कहे और अब हिंदुओं के खिलाफ गलत बयानबाजी की है. यह व्यक्ति समाज के लिए खतरा है और इसे जेल भेजा जाना चाहिए’. 

जब Dhoni पर दिया था बयान

इससे पहले भी योगराज सिंह कई बार विवादास्पद बयान दे चुके हैं. उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लेकर भी बयान दिया था, जब उनके बेटे युवराज सिंह को टीम इंडिया में जगह नहीं मिल रही थी. उनके इस बयान पर काफी बवाल हुआ था. इतना ही नहीं उन्होंने अंबाती रायडू के संन्‍यास को लेकर भी धोनी पर निशाना साधा था. गौरतलब है कि कृषि कानूनों के खिलाफ बड़ी संख्या में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं.  

 



Source link