Why did Anil Vij get infected even after taking Covaxin Health Ministry gave reason

0
7

नई दिल्ली: कोवैक्सिन (Covaxin) लेने के बाद भी हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री  अनिल विज (Anil Vij) के कोरोना संक्रमित होने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) ने सफाई दी है. स्वास्थ्य मंत्रालय स्पष्ट किया है कि कोवैक्सिन (Covaxin) दो खुराकों वाला कोरोना वायरस टीका (Corona vaccine) है. हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को सिर्फ पहली खुराक ही दी गयी थी.

अनिल विज बने पहले वॉलंटियर
कोवैक्सिन (Covaxin) एक स्वदेशी संभावित टीका है जिसे आईसीएमआर (ICMR) और भारत बायोटेक (Bharat Biotech) मिलकर विकसित कर रहे हैं. हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कोवैक्सिन के तीसरे चरण के परीक्षण में पहला वॉलंटियर बनने की पेशकश की थी.

केवल एक ही खुराक ली थी विज ने
अनिल विज के कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमित होने की घोषणा के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि टीका की दूसरी खुराक लेने के कुछ दिन बाद ही किसी व्यक्ति में संक्रमण के खिलाफ एंटीबॉडी (Antibody) का निर्माण होता है. यह दो खुराकों वाला टीका है और मंत्री ने टीका की केवल एक ही खुराक ली थी.

दूसरी खुराक के बाद बनती हैं एंटीबॉडी
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री विज ने भी कहा कि दूसरी खुराक लेने के बाद एंटीबॉडी का निर्माण होने लगता है और पहली खुराक के 28 दिनों बाद दूसरी खुराक दी जाती है. इस बीच की अवधि में कोई सुरक्षा नहीं होती. 67 वर्षीय विज को 20 नवंबर को पहली खुराक दी गयी थी.

यह भी पढ़ें: इन 5 आदतों से बढ़ सकता है Coronavirus का खतरा, अगर आपमें भी हैं तो हो जाइए Alert!

क्या कहा मंत्री ने
विज ने कहा कि कोविड टीका कैसे काम करता है, इस बारे में विशेषज्ञ ही ज्यादा बेहतर तरीके से जानते हैं. उन्होंने कहा, ‘ मुझे बताया गया कि दूसरी खुराक के बाद एंटीबॉडी बनने लगती है और दूसरी खुराक पहली खुराक के 28 दिनों बाद दी जाती है. दूसरी खुराक के 14 दिनों बाद पूरी तरह से एंटीबॉडी बनती है. इसलिए यह पूरा चक्र 42 दिनों का होता है. इस अवधि में कोई सुरक्षा नहीं होती है.’

फिलहाल मंत्री अनिल विज को गले में परेशानी है, बुखार और शरीर में दर्द है. विज ने कहा कि वह कुछ दिन पहले पानीपत गए थे, जहां उन्होंने एक भाजपा नेता के साथ दो-तीन घंटे का समय व्यतीत किया था. वह भाजपा नेता भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं.



Source link