West bengal election 2021 suvendu adhikari father tmc mp sisir adhikari May join BJP in pm modi rally

0
110

कोलकाता: पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव  2021 (West Bengal Assembly Election 2021) की लड़ाई में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के ‘अपने’ लगातार उन्हें छोड़कर बीजेपी में शामिल हो रहे हैं. तृणमूल कांग्रेस (TMC) के वरिष्ठ सांसद शिशिर अधिकारी (Sisir Adhikari) का नाम भी इस कड़ी में जुड़ने जा रहा है. सांसद शिशिर अधिकारी ने कहा है कि वह 20 मार्च को कांठी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की जनसभा में शामिल हो सकते हैं.

शुभेंदु के पिता हैं शिशिर अधिकारी

शिशिर, बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) के पिता हैं. हाल ही में तृणमूल कांग्रेस (TMC) छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हुए शुभेंदु नंदीग्राम विधान सभा सीट पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर शिशिर अधिकारी ने कहा, ‘अगर मुझे न्योता दिया गया और मेरे बेटों ने इसकी अनुमति दी, तो मैं मोदी जी की जनसभा में शामिल होऊंगा.’ 

लॉकेट चटर्जी ने की मुलाकात

बता दें, सांसद शिशिर के दो बेटे शुभेंदु और सौमेंदु अधिकारी बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. शिशिर भगत के एक और बेटे दिब्येंदु टीएमसी से सांसद हैं. बीजेपी सांसद लॉकेट चटर्जी शनिवार को शिशिर अधिकारी के आवास पर गई थीं और उन्होंने साथ में दोपहर का भोजन भी किया था. हालांकि, दोनों ने इसे ‘शिष्टाचार भेंट’ बताया था.

ममता की रैली में नहीं पहुंचे

शुभेंदु अधिकारी केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) की मौजूदगी में बीजेपी में शामिल हुए थे. इसके बाद उन्होंने अपने छोटे भाई सौमेंदु को बीजेपी में शामिल होने के लिए राजी किया. शुभेंदु अधिकारी के छोटे भाई दिब्येंदु और पिता शिशिर अधिकारी क्रमश: तमुक और कांथी से लोक सभा सदस्य हैं. दोनों ही बीते दिनों ममता बनर्जी की रैली में नहीं पहुंचे, इसके बाद से ही इनके बीजेपी में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली से गाजियाबाद जाने वालों को बड़ी राहत, Delhi Police ने खोला NH-24; गणतंत्र दिवस हिंसा के बाद से बंद थी सड़क

40-45 विधान सभा क्षेत्रों में प्रभाव

इन अधिकारी बंधुओं का पूर्व और पश्चिमी मिदनापुर, बांकुरा, पुरुलिया, झारग्राम और बीरभूम तथा अल्पसंख्यक बहुल मुर्शिदाबाद जिले के कम से कम 40-45 विधान सभा क्षेत्रों में अच्छा खासा प्रभाव है. ममता बनर्जी के बेहद करीबी रहे शुभेंदु अधिकारी आज टीएमसी के लिए बड़ी चुनौती बनते दिख रहे हैं. बीजेपी लगातार टीएमसी के बागी नेताओं पर निगाह बनाए हुए है. तमाम टीएमसी नेता अभी भी बजेपी के संपर्क में हैं. राज्य में अप्रैल-मई में विधान सभा चुनाव होने हैं.

LIVE TV 



Source link