West Bengal Assembly Election: Mamata Banerjee declares assets in Affidavit, contesting the Nandigram assembly constituency | Mamata Banerjee के पास नहीं है कोई घर और गाड़ी, जानें मुख्यमंत्री की संपत्ति का पूरा ब्यौरा

0
13

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार (10 मार्च) को नंदीग्राम सीट से नामांकन दाखिल किया था. ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग (Election Commission) को दिए हलफनामे (Mamata Banerjee Affidavit) में अपनी संपत्ति की जानकारी दी है और बताया है कि उनकी संपत्ति 16.72 लाख रुपये है. इसके साथ ही उन्होंने बताया है कि उनके पास कोई गाड़ी, घर या जमीन नहीं है और ना ही उनके खिलाफ कोई केस दर्ज है.

पिछले चुनाव से कम हो गई Mamata Banerjee की संपत्ति

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की संपत्ति पिछले चुनाव के मुकाबले कम हो गई है. उन्होंने साल 2016 में हुए विधान सभा चुनाव के दौरान दिए हलफनामे में बताया था कि उनकी कुल चल संपत्ति (Moveable Assets) 30.45 लाख रुपये थी, जो अब कम होकर 16.72 लाख रुपये हो गई है.

ये भी पढ़ें- TMC के आरोपों पर चुनाव आयोग ने दी तीखी प्रतिक्रिया, इन दावों को बताया गलत

ममता बनर्जी की सलाना इनकम

साल 2019-20 के दौरान ममता बनर्जी की आमदनी 10 लाख 34 हजार 370 रुपये थी. चुनावी हलफनामे के अनुसार, ममता बनर्जी के पास बैंक में कुल 13.53 लाख रुपये जमा हैं, जबकि नकद में उनके पास 69,255 रुपये हैं, जिसमें चुनावी खर्च के 1.51 लाख रुपये भी शामिल हैं. ममता ने कई किताबें लिखी हैं, जिनसे उन्हें 930 रुपये की रॉयल्टी भी मिली है. हलफनामे में दी गई जानकारी के मुताबिक ममता बनर्जी ने साल 2019-20 में 1.85 लाख रुपये का टीडीएस (TDS) चुकाया है.

लाइव टीवी

ममता बनर्जी ने किया है एनएससी में निवेश

हलफनामे में दी गई जानकारी में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बताया है कि उन्होंने एनएससी (NSC) में 18,490 रुपये का निवेश किया है. इसके अलावा पास 9 ग्राम सोना भी है, जिसकी कीमत 43,837 रुपये है. पिछले चुनाव में भी ममता बनर्जी के पास 9 ग्राम सोना था, जिसकी कीमत उस समय उन्होंने 26,380 रुपये बताया था.

27 मार्च को नंदीग्राम में मतदान

बता दें कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) की 294 विधान सभा सीटों के लिए 8 चरणों में वोटिंग होगी. राज्य में 27 मार्च को पहले चरण की वोटिंग होगी, जिसमें नंदीग्राम सीट भी शामिल है. इस सीट से ममता बनर्जी का मुकाबला उनके पुराने सहयोगी और बीजेपी उम्मीदवार शुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) से है. पश्चिम बंगाल में 27 मार्च के बाद एक अप्रैल, 6 अप्रैल, 10 अप्रैल, 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को मतदान होंगे, जबकि चुनाव परिणाम 2 मई को आएंगे. पहले और दूसरे चरण में 30-30 सीटों, तीसरे चरण में 31 सीटों, चौथे चरण में 44 सीटों, पांचवें चरण में 45 सीटों, छठे चरण में 43 सीटों, सातवें चरण में 36 सीटों और आठवें चरण में 35 सीटों पर मतदान करवाया जाएगा.



Source link