Unlock 4 में दिल्‍लीवालों को हाथ लगी मायूसी, 30 सितंबर तक सभी तरह के कार्यक्रमों पर जारी रहेगी पाबंदी

0
203

नई दिल्ली, । दिल्ली में सामाजिक/ राजनीतिक/ धार्मिक/ शैक्षिक/ खेल / मनोरंजन इत्यादि किसी भी कार्यक्रम के लिए लोगों के एकजुट होने पर 30 सितंबर तक पाबंदी जारी रहेगी। इस संबंध में दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने सोमवार को पत्र जारी कर एक बार यह स्पष्ट कर दिया है।

दरअसल, अनलॉक-4 में केंद्र सरकार ने 21 सितंबर से अधिकतम 100 लोगों के साथ सामाजिक/धार्मिक/राजनीतिक कार्यक्रम की छूट दी है। इसी संदर्भ में दिल्ली पुलिस की तरफ से डीडीएमए को पत्र लिखकर दिल्ली में स्थिति स्पष्ट करने की जानकारी मांगी गई थी।

 

इस पर डीडीएम ने पत्र जारी कर लिखा है कि डीडीएमए की तरफ से 3 सितंबर को जारी आदेश के अनुसार विवाह कार्यक्रम में 50 लोग और अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में अधिकतम 20 लोगों की अनुमति है। इसके अलावा सामाजिक/ राजनीतिक/ धार्मिक/ एकेडमिक/ स्पोर्ट्स/ एंटरटेंनमेंट सभी गतिविधियों पर प्रतिबंध है। आदेश के अनुसार इन सभी पाबंदियों पर 30 सितंबर तक यथास्थिति बनी रहेगी।

दिल्‍ली का यह है ताजा हाल

कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या तेजी से बढ़ रही है। राजस्व विभाग की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में 1889 सक्रिय कंटेनमेंट जोन हैं, जिनमें 1 लाख 18 हजार 418 लोग रह रहे हैं। कंटेनमेंट जोन बढ़ने का कारण माइक्रो स्तर पर कंटेनमेंट जोन बनाना है। इसमें एक घर या आसपास के दो या तीन घरों को मिलाकर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे हैं, जबकि पहले बड़े क्षेत्र में कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे थे। राजस्व विभाग की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में अब तक 3260 कंटेनमेंट जोन बने हैं। इनमें से 1371 को डी-कंटेन कर दिया गया है। 21 जून के बाद 2926 कंटेनमेंट जोन बने हैं। दिल्ली में सबसे ज्यादा कंटेनमेंट जोन दक्षिणी पश्चिमी जिले में 328 हैं जबकि सबसे कम उत्तरी जिले में 65 हैं।

किस जिले में कितने कंटेनमेंट जोन

उत्तरी – 200

नई दिल्ली-151

उत्तर-पश्चिमी -198

दक्षिण- पश्चिमी -328

पश्चिमी -229

दक्षिण- पूर्वी -101

दक्षिणी -177

शाहदरा-127

पूर्वी-142

उत्तर- पूर्वी -65

मध्य -171