Saturday, February 24, 2024
HomeNEWSPUNJABRamlila gets approval for cinema curtain | सिनेमा का पर्दा गिरा रहेगा...

Ramlila gets approval for cinema curtain | सिनेमा का पर्दा गिरा रहेगा रामलीला को मिली मंजूरी

[ad_1]

चंडीगढ़एक दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • दशहरे पर रोक नहीं, लेकिन केंद्र की गाइडलाइंस आईं तो मानेंगे
  • 19 अक्टूबर से केवल 3 घंटे के लिए खुलेंगे स्कूल

सूबे के सभी सरकारी व निजी स्कूल 19 अक्टूबर से खुल जाएंगे। लेकिन इनमें सिर्फ 9वीं से लेकर 12वीं कक्षा तक के बच्चों को ही स्कूल बुलाया जा सकेगा। स्कूल केवल 3 घंटे के लिए खुलेंगे। इससे पहले सरकार ने 15 अक्टूबर से स्कूलों को खोलने का फैसला लिया था। वहीं, कैप्टन सरकार ने फिलहाल सूबे के सिनेमाघरों, मल्टीप्लेक्स और मनोरंजन पार्कों को बंद रखने का फैसला लिया है। हालांकि, रामलीला कर मंचन किया जा सकेगा। लेकिन इसमें कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से पालन करना होगा। सरकार ने यह फैसला कोविड की समीक्षा को लेकर हुई मीटिंग के बाद लिया।

इसमें त्याेहारों और ठंड के सीजन में करोना महामारी की दूसरी लहर आने की बात कही गई है, जिसके बाद सरकार ने ऐहतियात के तौर पर यह कदम उठाया है। सरकार ने कंटेनमेंट जाेन से बाहर वाले स्कूलों को ही खोलने का ही फैसला लिया है। स्कूलों को खोलने को लेकर सभी दिशा निर्देश सभी जिलों के डीईओ को भेज दिए गए हैं। शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों को खोलने का फैसला कर लिया है लेकिन ऑनलाइन क्लासेज पहले की तरह जारी रहेंगी। शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा, स्कूलों को काेविड प्रोटोकाल का पालन और जारी हिदायतों के अनुसार काम करना होगा।

बड़े ग्राउंड में ही हो सकेगा दशहरा

सरकार ने अभी दशहरे को मनाने को लेकर कोई रोक नहीं लगाई है। दशहरे के आयोजन बड़े ग्राउंड में ही करवाए जाएंगे। जिसकी मंजूरी जिला प्रशासन से लेनी होगी। अगर केंद्र सरकार के एमएचए या स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोई गाइडलाइंस आती है ताे सरकार द्वारा उसका पालन किया जाएगा। रामलीला देखने आने वाले लोगों की संख्या जिला प्रशासन द्वारा तय की जाएगी। अधिकारी जाकर देखेंगे कि रामलीला के आयोजन स्थल पर कितने लोग आ सकते है। वहां पर दूरी का पालन सख्ती से कराया जाएगा आयोजकों को भी इसको लेकर अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी।

इन हिदायतों का करना होगा पालन

  • बच्चों को अपने परिजनों की लिखित इजाजत जरूरी होगी।
  • स्कूल में मास्क पहनना होगा। उसे किसी से चेंज नहीं कर सकें।
  • बच्चों के परिजनों को स्कूल भेजते वक्त उनके बाजू के कपड़े और दूसरों से कम से कम संपर्क रखने के बारे में बताया जाएगा।
  • सभी स्कूल 9वीं से लेकर 12वीं कक्षा तक के बच्चों के लिए तीन घंटों के लिए खुलेेंगे।
  • स्कूल में दूसरी कक्षाओं के बच्चों को नहीं बुलाया जा सकेगा।
  • प्रोटोकाल को देखते हुए अगर बच्चों की संख्या अधिक है तो दो शिफ्टों में कक्षाएं लगा सकते हैं।
  • कंटेनमेंट जोन में रहने वाले लोग एवं स्टाफ स्कूल अटेंड नहीं कर सकेंगे।
  • स्कूलों में हाथ धोने,थर्मामीटर, सेनीटाइजर सहित अन्य जरूरी चीजों का प्रबंध करना होगा
  • स्कूल ट्रांसपोर्ट को अच्छी तरह से सेनीटाइज और दूरी का पूरा ध्यान रखना होगा।
  • स्कूल प्रशासन को बच्चों की सीटों में कम से कम 6 फीट की दूरी करनी होगी।
  • स्टाफ रूम और आफिस एरिया हास्टल में सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखना होगा
  • स्कूलों को करोना वायरस को लेकर पोस्टर व बैनर लगाने होंगे।
  • ऐसे कार्यक्रमों से परहेज करना होगा जहां पर सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं हो सकता हो।

[ad_2]

Source link

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments