Punjabi Singer Sardool Sikander Passed Away – Sardool Sikander Death: कोरोना से जिंदगी की जंग हारे पंजाबी गायक सरदूल सिकंदर, निजी अस्पताल में तोड़ा दम, प्रशंसक शोक में डूबे

0
32

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

पंजाब के मशहूर गायक सरदूल सिकंदर का बुधवार को देहांत हो गया। वह साठ साल के थे। उन्होंने मोहाली के एक निजी अस्पताल में आखिरी सांस ली। वह काफी दिनों से बीमार चल रहे थे। कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से उनका इलाज चल रहा था। इसकी वजह से उनकी तबीयत ज्यादा खराब थी। उनकी पत्नी अमर नूरी भी काफी प्रसिद्ध गायिका हैं। सिकंदर की मौत से प्रशंसकों में शोक की लहर दौड़ गई। साथी गायकों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने भी सरदूल के निधन पर शोक जताया।

सिकंदर की मौत से पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री को बड़ा झटका लगा है। पंजाबी गायक एवं गीतकर हैप्पी रायकोटी ने सरदूल की एक फोटो शेयर करते हुए लिखा है, ओए मालका, एह की कहर कमाया। गायिका मिस पूजा ने सरदूल सिकंदर की फोटो शेयर कर लिखा कि विश्वास नहीं हो रहा कि उस्ताद सरदूल सिकंदर हमें छोड़कर चले गए। परमात्मा उनकी आत्मा को अपने चरणों में जगह दे। रेस्ट इन पीस गुरुजी। उनके दो बेटे आलाप और सारंग सिकंदर हैं। दोनों गायकी के क्षेत्र में हैं। सरदूल सिकंदर दिसंबर के दूसरे हफ्ते में सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में गए थे। उनके साथ उनकी पत्नी और गायिका अमर नूरी भी थी।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर सरदूल सिकंदर को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने ट्वीट किया कि महान पंजाबी गायक सरदूल सिकंदर के निधन के बारे में जानकर बहुत दुख हुआ। वे हाल ही में कोरोना पॉजिटिव हुए थे और उसी के लिए उनका इलाज चल रहा था। पंजाबी संगीत की दुनिया आज गरीब है। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।
 

बता दें कि गायक सरदूल सिकंदर का पंजाबी गायकी को मशहूर करने में काफी अहम योगदान रहा है। सरदूल सिकंदर ने 1980 के दशक में अपनी पहली एलबम रोडवेज दी लारी निकाली थी। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। सरदूल सिकंदर ने कई हिट गाने दिए। एक बेहतरीन गायक होने के साथ-साथ सरदूल सिकंदर अच्छे अभिनेता भी थे। सरदूल ने पंजाबी फिल्मों में भी काम किया था।

 

पंजाब के मशहूर गायक सरदूल सिकंदर का बुधवार को देहांत हो गया। वह साठ साल के थे। उन्होंने मोहाली के एक निजी अस्पताल में आखिरी सांस ली। वह काफी दिनों से बीमार चल रहे थे। कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से उनका इलाज चल रहा था। इसकी वजह से उनकी तबीयत ज्यादा खराब थी। उनकी पत्नी अमर नूरी भी काफी प्रसिद्ध गायिका हैं। सिकंदर की मौत से प्रशंसकों में शोक की लहर दौड़ गई। साथी गायकों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने भी सरदूल के निधन पर शोक जताया।

सिकंदर की मौत से पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री को बड़ा झटका लगा है। पंजाबी गायक एवं गीतकर हैप्पी रायकोटी ने सरदूल की एक फोटो शेयर करते हुए लिखा है, ओए मालका, एह की कहर कमाया। गायिका मिस पूजा ने सरदूल सिकंदर की फोटो शेयर कर लिखा कि विश्वास नहीं हो रहा कि उस्ताद सरदूल सिकंदर हमें छोड़कर चले गए। परमात्मा उनकी आत्मा को अपने चरणों में जगह दे। रेस्ट इन पीस गुरुजी। उनके दो बेटे आलाप और सारंग सिकंदर हैं। दोनों गायकी के क्षेत्र में हैं। सरदूल सिकंदर दिसंबर के दूसरे हफ्ते में सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में गए थे। उनके साथ उनकी पत्नी और गायिका अमर नूरी भी थी।



Source link