Saturday, February 24, 2024
HomeNEWSPUNJABPunjab News In Hindi: Three Robbers Arrested In Ludhiana - लुधियाना में...

Punjab News In Hindi: Three Robbers Arrested In Ludhiana – लुधियाना में मुथूट फाइनेंस कंपनी में लूट, भाग रहे लुटेरों ने की फायरिंग, तीन गिरफ्तार

[ad_1]

संवाद न्यूज एजेंसी, लुधियाना (पंजाब)

Updated Fri, 16 Oct 2020 08:45 PM IST

                    जांच करती पुलिस टीम।
                                <span>- फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी </span>
                </p><div style="display: block"> 

<div class="epaper_pic"> 

    <a href="https://epaper.amarujala.com?utm_source=au&amp;utm_medium=article&amp;utm_campaign=esubscription"> &#13;




</div> 

<div class="image-caption"> 

    <h3>पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर <br/>&#13;


कहीं भी, कभी भी।

    <p>*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!</p>  



</div> 
ख़बर सुनें

लुधियाना के दुगरी रोड स्थित मुथूट फाइनेंस कंपनी में शुक्रवार सुबह 8:50 बजे तीन हथियारबंद लुटेरे घुस गए। उनके दो साथी सीढ़ियों पर और एक नीचे खड़ा था। कमिश्नरेट पुलिस को सूचना मिलते ही घटनास्थल से करीब चार सौ मीटर दूर स्थित आत्मनगर चौकी से चंद मिनटों में पुलिस की गाड़ियां हूटर मारती हुई कंपनी के नीचे पहुंच गई। 

पुलिस को देखकर लुटेरों ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं। फायरिंग के बीच पुलिस कर्मचारियों ने आरोपियों की घेराबंदी कर ली। जब आरोपी बाइक लेकर फरार होने लगे तो पुलिस ने तीन लुटेरों को लोगों की मदद से गिराकर काबू कर लिया। वहीं बाकी तीन लुटेरे जेवर से भरे तीन बैग छोड़कर फरार हो गए। 

लुटेरों की गोली लगने से कंपनी के एआरएम एमएस अलग और राहगीर दीपक घायल हो गए। दोनों को निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया है। सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल, ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर भागीरथ मीना, एडीसीपी 3 समीर वर्मा और पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। 

जानकारी के अनुसार, दुगरी रोड पर मुथूट फाइनेंस कंपनी का दफ्तर पहली मंजिल पर है। कंपनी लोगों के जेवरात गिरवी रख लोन देती है। रोजाना सारा स्टाफ सुबह नौ बजे तक आ जाता है। शुक्रवार सुबह 8:50 बजे तक सुरक्षाकर्मी गुरमीत और सफाईकर्मी राजन और एक महिला कर्मचारी दफ्तर पहुंचे। इसी बीच तीन बाइक पर सवार छह लुटेरे आए। 

एक लुटेरा नीचे रहा और पांच ऊपर चले गए। दो लुटेरे आधे रास्ते सीढ़ियों पर रुक गए, तीन दफ्तर के अंदर चले गए। लुटेरों ने दफ्तर के बाहर खड़े सुरक्षाकर्मी गुरमीत को बंधक बनाया और अंदर ले गए और रस्सी से बांध दिया। इसके बाद राजन और महिला कर्मचारी को भी बंधक बना लिया। कुछ समय बाद ब्रांच मैनेजर सतजीत आए। 

हथियारों के बल पर लुटेरे सतजीत को सेफ के पास ले गए। आरोपियों ने तीन बैग में करीब 15 करोड़ के जेवरात भर लिए और नकदी अलग रख ली। कंपनी के कर्मचारियों को नौ बजे तक बायोमेट्रिक तरीके से हाजिरी दर्ज करानी होती है लेकिन शुक्रवार सुबह सवा नौ बजे तक किसी कर्मचारी की हाजिरी दर्ज न होने पर कंपनी के मुख्यालय कोच्चि में सीसीटीवी कैमरे चेक किए गए। 

घटना के बारे में पता चलने पर लुधियाना के एआरएम एमएस अलग को सूचना दी गई। एआरएम से घटना की जानकारी मिलने पर करीब 9:25 बजे पुलिस की गाड़ियां दफ्तर के नीचे पहुंची। हूटर सुनकर लुटेरे जेवरात और नकदी लेकर भागने लगे लेकिन पुलिस की घेराबंदी देखकर उन्होंने गोलियां चलानी शुरू कर दीं। इसी बीच लोगों की भीड़ भी एकत्र हो गई। करीब सात मिनट में दस राउंड फायरिंग कर लुटेरे बाइक पर बैठकर फरार होने लगे लेकिन पुलिस ने लोगों की मदद से एक बाइक को घेरकर जेवरात से भरे बैग लेकर बैठे लुटेरों को गिरा दिया। इसके बाद गुस्साए लोगों ने लुटेरों को खूब पीटा।  

सार

  • लुधियाना में दुगरी रोड स्थित कंपनी में घुसे छह हथियारबंद लुटेरे, कोच्चि हेडक्वार्टर से आई सूचना पर पहुंची पुलिस
  • जेवरात से भरे तीन बैग छोड़कर तीन लुटेरे फरार, गोली लगने से फाइनेंस कंपनी के एआरएम और एक राहगीर घायल 

विस्तार

लुधियाना के दुगरी रोड स्थित मुथूट फाइनेंस कंपनी में शुक्रवार सुबह 8:50 बजे तीन हथियारबंद लुटेरे घुस गए। उनके दो साथी सीढ़ियों पर और एक नीचे खड़ा था। कमिश्नरेट पुलिस को सूचना मिलते ही घटनास्थल से करीब चार सौ मीटर दूर स्थित आत्मनगर चौकी से चंद मिनटों में पुलिस की गाड़ियां हूटर मारती हुई कंपनी के नीचे पहुंच गई। 

पुलिस को देखकर लुटेरों ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं। फायरिंग के बीच पुलिस कर्मचारियों ने आरोपियों की घेराबंदी कर ली। जब आरोपी बाइक लेकर फरार होने लगे तो पुलिस ने तीन लुटेरों को लोगों की मदद से गिराकर काबू कर लिया। वहीं बाकी तीन लुटेरे जेवर से भरे तीन बैग छोड़कर फरार हो गए। 

लुटेरों की गोली लगने से कंपनी के एआरएम एमएस अलग और राहगीर दीपक घायल हो गए। दोनों को निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया है। सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल, ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर भागीरथ मीना, एडीसीपी 3 समीर वर्मा और पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। 

[ad_2]

Source link

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments