Punjab Municipal Election Voting 2021: Voting Completed For Civic Polls In Punjab – पंजाब निकाय चुनाव के लिए मतदान संपन्न, कहां हुई तकरार और कहां हुआ बवाल, यहां पढ़ें- हर जिले का हाल

0
25

पंजाब निकाय चुनाव 2021:
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

पंजाब में रविवार को छुटपुट घटनाओं के साथ निकाय चुनाव संपन्न हुआ। 17 फरवरी को चुनाव नतीजे आएंगे। हालांकि मतदान के दौरान कई जगह से तकरार की खबरें आईं। तो वहीं कई जगह फर्जी मतदान की भी सूचना है। आइए जानते हैं पंजाब के प्रमुख स्थानों पर कैसा रहा मतदान का हाल…

फिरोजपुर : वार्ड-17 में कांग्रेसियों ने अकालियों का स्टॉल तोड़ा
फिरोजपुर के वार्ड नंबर-17 में कांग्रेसी और अकालियों के बीच झगड़ा हो गया। कांग्रेसियों ने पोलिंग बूथ के पास अकालियों के लगे स्टाल में तोड़फोड़ कर दी। वहीं वार्ड-26 के बूथ नंबर-एक में ईवीएम खराब होने से लोगों को परेशानी उठानी पड़ी। जलालाबाद में वार्ड-चार के बूथ नंबर-एक पर शरारती तत्वों ने फर्जी वोट डालने की कोशिश की। 

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शरारती तत्वों को खदेड़ा। गुरुहरसहाए में 15 वार्ड में से आठ वार्डों में ही मतदान हुआ। यहां अकाली दल ने चुनाव का बहिष्कार किया था। वार्ड-17 में कांग्रेसी और अकाली कार्यकर्ताओं में झगड़ा हो गया। कांग्रेसियों ने पोलिंग बूथ के नजदीक लगे अकालियों के स्टाल में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इसी बात पर अकालियों ने पंजाब सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना मिलते ही डीएसपी की अगुवाई में पुलिस टीम मौके पर पहुंची और माहौल शांत करवाया। 

बठिंडा में इक्का-दुक्का घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। वार्ड नंबर-44 से शिअद प्रत्याशी हरविंदर कुमार शर्मा ने बताया कि कुछ बाहरी लोगों ने वोटिंग प्रक्रिया में खलल डालने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने ऐसा नहीं होने दिया। वहीं वार्ड नंबर-42 में मतदान करने पहुंचा दंपती जब बूथ पर गया तो पता चला कि उनका मत पहले ही पड़ चुका है।

पहली बार मतदान करने पहुंची वार्ड नंबर-24 की कंचन ने कहा कि उन्हें बहुत खुशी हो रही कि उन्होंने मतदान का इस्तेमाल किया। उन्हें तब और खुशी होगी जब वो प्रत्याशी जीत जाए जिसको उन्होंने वोट किया है। बठिंडा के वार्ड नंबर-14 में फर्जी वोट डालने पहुंचे लोगों को पोलिंग स्टाफ ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। कुछ देर बाद ही पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया। 

वोट के बदले राशन बांट रहा युवक नामजद
पठानकोट के वार्ड-3 में वोट के बदले राशन बांटने के आरोप में थाना-1 की पुलिस ने एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोपी की पहचान अचार्जियां मोहल्ला निवासी मनु के तौर पर हुई है। एएसआई बलकार सिंह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि वार्ड-3 में राशन बंट रहा था। उन्हें बताया गया कि मोहल्ला निवासी वैसाखी राम के घर उक्त युवक आया और जबरदस्ती राशन रख दिया। उक्त युवक ने उनसे कहा कि वह भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में वोट करें। एसएचओ प्रमोद कुमार ने बताया कि शिकायत के बाद चुनाव आयोग के आदेश का उल्लंघन करने के आरोप में मामला दर्जकर लिया गया है। 

नगर काउंसिल चुनाव रविवार को शांतिपूर्वक संपन्न हो गए। वार्ड चार में फर्जी मतदान को लेकर दो प्रत्याशियों बीच मामूली तकरार हुई लेकिन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पा लिया। 23 वार्डों में से 21 वार्डों में वोट डाले गए जबकि स्थानीय वार्ड 12 और 14 में दो प्रत्याशी निर्विरोध चुने गए हैं। सभी पोलिंग बूथ पर स्वास्थ्य विभाग की टीमें तैनात थीं।

फर्जी मतदान का विरोध करने पर उखाड़ा भाजपा का टेंट
अबोहर के वार्ड नं- 49 में फर्जी मतदान का विरोध करने पर जब प्रशासन ने सुनवाई नहीं की तो अकाली दल और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार पोलिंग बूथ से बाहर आ गए। वहीं भाजपा और कांग्रेस में झड़प हो गई। कुछ लोगों ने भाजपा के टेंट उखाड़ दिए और चुनाव सामग्री इधर-उधर बिखेर दी। इससे माहौल तनावपूर्ण हो गया। अकाली दल और आम आदमी पार्टी ने फर्जी मतदान का विरोध किया तो किसी भी अधिकारी ने उनकी बात नहीं सुनी। इस पर दोनों उम्मीदवार संतोष रानी और किरण रानी पोलिंग बूथों से बाहर आ गईं। 

होशियारपुर : किसानों ने भाजपा देहात प्रधान की गाड़ी के शीशे तोड़े  
चुनाव के दौरान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों और भाजपा उम्मीदवार गोपाल कुमार, भाजपा देहात के जिला प्रधान संजीव मिन्हास के बीच नोकझोंक हो गई। किसानों ने उनका घेराव कर कार के शीशे तोड़ दिए। जानकारी के अनुसार किसानों का रोष मार्च वार्ड नंबर 8 के पोलिंग बूथ पर पहुंचा तो वहां भाजपा के उम्मीदवार गोपाल कुमार को देखकर किसान भड़क उठे। 

उन्होंने उन्हें वहां से जाने के लिए कहा। किसानों और भाजपा उम्मीदवार के बीच तकरार देखकर पुलिस प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर किसानों को शांत करवाया। उन्होंने शांतिपूर्ण मतदान के लिए भाजपा उम्मीदवार को भी बूथ से हट जाने के लिए कहा। भाजपा उम्मीदवार के चले जाने के बाद मामला कुछ शांत हुआ ही था कि भाजपा जिला देहात प्रधान संजीव मिन्हास समर्थकों के साथ वहां पहुंच गए।

डीएसपी गोपाल सिंह एवं एसएचओ गढ़दीवाला बलविंदर पाल ने मिन्हास को मतदान शांतिपूर्ण तरीके से करवाने का भरोसा दिलाया। उसके बाद वह टांडा मोड़ स्थित किसी दुकान पर जाकर बैठ गए। किसान वहां भी पहुंच गए और नारेबाजी शुरू कर दी। हालात बिगड़ते देख डीएसपी गोपाल सिंह एवं एचएचओ बलविंद्र पाल पुलिस फोर्स समेत मौके पर पहुंचे।

उन्होंने किसानों को समझाकर शांत किया। संजीव मिन्हास जाने के लिए अपनी गाड़ी के पास पहुंचे तो उन्होंने भारतीय जनता पार्टी जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए। इससे किसान भड़क उठे। उन्होंने उनकी गाड़ी का घेराव का शीशे तोड़ दिए। पुलिस ने संजीव मिन्हास को वहां से निकालकर भेजा। 

संगरूर : आप नेता संदीप सिंगला और साथी पर हमला
धूरी के वार्ड नंबर-1 में नगर काउंसिल चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी के बूथ पर आप के सीनियर नेता संदीप सिंगला और उनके साथी पर कुछ लोगों ने हमलाकर घायल कर दिया। उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। संदीप सिंगला ने आरोप लगाया कि उन्हें पार्टी वर्करों से पता चला कि वार्ड नंबर एक से पार्टी के उम्मीदवार मनजीत कौर के पोलिंग बूथ पर कांग्रेस के कुछ समर्थकों की ओर से फर्जी मतदान करवाया जा रहा था। यदि कोई वोटर वोट डालने जाता है तो उससे कहा जाता है कि उसका वोट तो डाला जा चुका है। 

उन्होंने तुरंत एसडीएम धूरी को फोन पर स्थिति की जानकारी दी लेकिन उनके पहुंचने से पहले ही स्कॉर्पियो में आए दो लोगों ने उन पर हमला कर दिया। उनके साथी गौरव बांसल के सिर पर गहरी चोट आई है। उन्हें भी बुरी तरह से पीटा गया। उन्होंने भागकर अपनी जान बचाई।

आप के जिलाध्यक्ष दविंदर सिंह बदेशा ने आरोप लगाया कि हलका विधायक ने अपने उम्मीदवारों की हार देखकर बौखलाहट में आप वर्करों पर हमला करवाया है। उन्होंने आरोपियों पर इरादा-ए-कत्ल का मामला दर्ज करने की मांग की। डीएसपी बूटा सिंह ने कहा कि घटना की जांच की जा रही है। जो स्थिति सामने आएगी उसके हिसाब से कार्रवाई की जाएगी। 

संगरूर में 77.92 फीसदी मतदान
संगरूर की सात नगर काउंसिल और एक नगर पंचायत में रविवार को शांतिपूर्वक मतदान हुआ। इस दौरान वोटरों में उत्साह देखने को मिला। डिप्टी कमिश्नर रामवीर ने बताया कि जिले में करीब 77.92 फीसदी लोगों ने वोट डाले। उन्होंने बताया कि नगर काउंसिल भवानीगढ़ में 77.29 फीसदी, मालेरकोटला में 76 फीसदी, धूरी में 72 फीसदी, सुनाम में 72.79 फीसदी, लहरा में 83 फीसदी, लौंगोवाल में 84.82 फीसदी, अहमदगढ़ में 76.4 फीसदी और नगर पंचायत अमरगढ़ 81.38 फीसदी मतदान हुआ। 

अमृतसर : 290 उम्मीदवारों का भविष्य ईवीएम में बंद 
नगर निगम अमृतसर के वार्ड नंबर 37 के उप चुनाव सहित तीन नगर काउंसिलों व पंचायतों का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हो गया। इसके साथ ही 290 उम्मीदवारों का भविष्य ईवीएम में बंद हो गया। रविवार को अजनाला नगर पंचायत के 15, रइया के 13, जंडियाला गुरु के 15 वार्ड, मजीठा के 13 व रमदास के 11 वार्डों में चुनाव हुए। वार्ड नंबर 37 में शिअद व कांग्रेस के वर्करों के बीच झड़प की घटनाएं भी हुईं।

गुरदासपुर में छिटपुट घटनाओं को छोड़कर निकाय चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। सबसे ज्यादा मतदान विधानसभा हलका श्री हरगोबिंदपुर में हुआ। जिले के कुल 607 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई है। गुरदासपुर के जेल रोड पर थाना सिटी पुलिस ने अकाली कार्यकर्ताओं समेत उनकी चार गाड़ियां जब्त कर ली।

पुलिस का कहना है कि उक्त लोगों को शांति भंग करने के आरोप में पकड़ा गया है। उन पर मामला दर्जकर लिया गया है। मामले की सूचना मिलते ही अकाली दल के जिला प्रधान व पूर्व विधायक गुरबचन सिंह बब्बेहाली साथियों सहित थाना सिटी पहुंचे। बब्बेहाली ने आरोप लगाया कि कांग्रेसी जबरदस्ती कर रहे हैं ताकि अकाली कार्यकर्ता वोट न डाल सकें। 

वहीं गुरदासपुर के वार्ड नंबर-25 में भाजपा के उम्मीदवारों को बूथों में न जाने देने पर भाजपा जिलाध्यक्ष परमिंदर सिंह गिल ने कांग्रेस के खिलाफ भड़ास निकाली। गिल ने कहा कि कांग्रेस हर वार्ड में भाजपाइयों के साथ जबरदस्ती कर रही है। उन्होंने साथियों को साथ लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। 

निकाय चुनाव के दौरान बटाला में तीन जगह टकराव हुआ। शहर के वार्ड नंबर-34 में आजाद उम्मीदवार और कांग्रेस के बीच झड़प हुई। वहीं वार्ड नंबर-40 में भाजपा और कांग्रेस समर्थकों के बीच हुई हिंसक झड़प में भाजपा के पूर्व जिला प्रधान का सिर फट गया। वार्ड नंबर-13 में अकाली उम्मीदवार के समर्थक ने एक वोटर की पगड़ी उतार दी। 

रविवार को मतदान शुरू होने के पहले घंटे में ही वार्ड-34 के बूथ नंबर 76-77 में आजाद उम्मीदवार हरजिंदर सिंह कलसी और पूर्व मंत्री अश्वनी सेखड़ी की बहन व कांग्रेस उम्मीदवार नवीन सेखड़ी के समर्थकों में फर्जी वोटिंग को लेकर तकरार हो गई। बात हाथापाई तक पहुंच गई। इसमें कांग्रेस समर्थक हरमिंदर सिंह सैंडी की पगड़ी भी उतर गई। वहीं वार्ड नंबर-40 में भाजपा और कांग्रेस समर्थकों के बीच झड़प हो गई। इसमें भाजपा के पूर्व जिला प्रधान सुरेश भाटिया का सिर फट गया। डीएसपी सिटी विंदर कौर ने घटना के बाद मौके से लोगों को खदेड़ दिया।

मुक्तसर : बूथ नंबर-56 पर देर से शुरू हुआ मतदान
घने कोहरे के बावजूद रविवार को मतदाताओं में उत्साह दिखाई दिया। सुबह आठ बजे से ही लोग पोलिंग बूथ पर पहुंचने लगे। गौरतलब है कि शहर में कुल 31 वार्ड हैं। वार्ड नंबर आठ से कांग्रेस प्रत्याशी तेजिंदर सिंह जिम्मी बराड़ पहले ही निर्विरोध चुने जा चुके हैं। रविवार को बाकी बचे 30 वार्डों के 167 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करने के लिए मतदान किया गया। उधर, वार्ड नंबर-24 के बूथ नंबर-56 पर ईवीएम मशीन खराब होने के कारण मतदान एक घंटा देरी से शुरू हुआ।

पटियाला में रविवार को नगर काउंसिल राजपुरा, नाभा, समाना और पातड़ां में मतदान हुआ। जिले में औसतन 70.09 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। डीसी एवं जिला चुनाव अधिकारी कुमार अमित ने बताया कि नगर काउंसिल राजपुरा के 31 वार्डों में कुल 80416 वोटर हैं। यहां 64.15 फीसदी वोटरों ने मतदान किया।

नगर काउंसिल नाभा के 23 वार्डों में कुल 50095 वोटर हैं और इनमें से 70.48 फीसदी वोटरों ने अपने मत का इस्तेमाल किया। नगर काउंसिल समाना के 21 वार्डों में कुल 44388 वोटर हैं, जिनमें से 67 फीसदी वोटरों ने मतदान किया। इसी तरह नगर काउंसिल पातड़ां के कुल 17 वार्डों में कुल 23013 वोटरों में से 78.73 फीसदी वोटरों ने वोट डाले। 

बरनाला में अमन शांति से हुआ मतदान 
निकाय चुनाव के दौरान रविवार को मतदान केंद्रों में छुट-पुट घटनाएं हुई। घटनाओं को पुलिस कंट्रोल करती रही। कहीं भी कोई बड़ी घटना नहीं हुई। कुल मिलाकर अमन शांति से मतदान संपन्न हुआ। नगर काउंसिल बरनाला की 31 सीटों पर 67.67 प्रतिशत, नगर काउंसिल तपा की 15 सीटों पर 82.73 प्रतिशत, धनौला नगर काउंसिल की 13 सीटों पर 80.39 प्रतिशत एवं भदौड़ नगर काउंसिल की 13 सीटों पर 78 प्रतिशत मतदान हुआ।

जालंधर के आठ निकायों में 71 फीसदी मतदान
जालंधर के आठ नगर काउंसिल व नगर पंचायत के लिए रविवार को 71 फीसदी मतदाताओं ने मताधिकार का इस्तेमाल किया। सबसे अधिक अलावलपुर में 81 फीसदी मतदान हुआ। जिले में कुल 126 बूथ बनाए गए थे और बूथों पर पुलिस का सख्त पहरा सुबह से ही था। शांतिपूर्वक मतदान के लिए प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक रखी थी।

लुधियाना में रविवार को छह नगर काउंसिल और दो वार्ड के उपचुनाव छुटपुट नोकझोंक के बीच शांतिपूर्वक संपंन हो गए। जिले में 68.92 फीसदी लोगों ने अपने वोट का इस्तेमाल किया है। पायल में सबसे ज्यादा 83.09 फीसदी मतदान हुआ और खन्ना में सबसे कम मतदान 66.16 फीसदी हुआ। साहनेवाल और मुल्लांपुर दाखा में एक-एक वार्ड में उपचुनाव हुआ है। इसके अलावा खन्ना, जगरांव, समराला, रायकोट, दोराहा और पायल में सभी वार्ड के लिए मतदान हुआ।

जगरांव में 67.54 फीसदी मतदान हुआ। समराला में मतदान का प्रतिशत 72.68 रहा। रायकोट में 73.33 ने मतदान किया। दोराहा में 74.43 फीसदी मतदान हुआ। पायल में 83.09 फीसदी मत पड़े। 

वोट डालकर घर लौटे व्यक्ति की दौरा पड़ने से मौत 
रायकोट में वोट डालकर घर लौटे व्यक्ति की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई है। मृतक के पिता मोहन लाल ने बताया कि उनका बेटा राजपाल शर्मा उर्फ राजा हलवाई (55) सुबह नगर काउंसिल रायकोट के दफ्तर स्थित बूथ पर वोट डालने गया था। वहां से घर लौट खाना खाने के लिए हाथ धो रहा था। उसी समय दिल का दौरा पड़ने से नीचे गिर गया। उसे निजी अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।  

पंजाब में रविवार को छुटपुट घटनाओं के साथ निकाय चुनाव संपन्न हुआ। 17 फरवरी को चुनाव नतीजे आएंगे। हालांकि मतदान के दौरान कई जगह से तकरार की खबरें आईं। तो वहीं कई जगह फर्जी मतदान की भी सूचना है। आइए जानते हैं पंजाब के प्रमुख स्थानों पर कैसा रहा मतदान का हाल…

फिरोजपुर : वार्ड-17 में कांग्रेसियों ने अकालियों का स्टॉल तोड़ा

फिरोजपुर के वार्ड नंबर-17 में कांग्रेसी और अकालियों के बीच झगड़ा हो गया। कांग्रेसियों ने पोलिंग बूथ के पास अकालियों के लगे स्टाल में तोड़फोड़ कर दी। वहीं वार्ड-26 के बूथ नंबर-एक में ईवीएम खराब होने से लोगों को परेशानी उठानी पड़ी। जलालाबाद में वार्ड-चार के बूथ नंबर-एक पर शरारती तत्वों ने फर्जी वोट डालने की कोशिश की। 

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शरारती तत्वों को खदेड़ा। गुरुहरसहाए में 15 वार्ड में से आठ वार्डों में ही मतदान हुआ। यहां अकाली दल ने चुनाव का बहिष्कार किया था। वार्ड-17 में कांग्रेसी और अकाली कार्यकर्ताओं में झगड़ा हो गया। कांग्रेसियों ने पोलिंग बूथ के नजदीक लगे अकालियों के स्टाल में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इसी बात पर अकालियों ने पंजाब सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना मिलते ही डीएसपी की अगुवाई में पुलिस टीम मौके पर पहुंची और माहौल शांत करवाया। 


आगे पढ़ें

बठिंडा : दंपती का वोट कोई और डाल गया

Source link