Punjab Congress leader Gurlal Singh Bhullar was to be killed during Singhu Border visit on 9th Feb | Singhu Border पर कांग्रेस नेता Gurlal Singh Bhullar की हत्या का बनाया था प्लान, पूछताछ में हुआ बड़ा खुलासा

0
21

चंडीगढ़: पंजाब यूथ कांग्रेस (Punjab Youth Congress) के नेता गुरलाल सिंह भुल्लर (Gurlal Singh Bhullar) की हत्या मामले में पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में बड़ा खुलासा किया है. स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) ने बताया कि गुरलाल को सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर मारने की साजिश रची गई थी. 

हत्या के लिए चुना 9 फरवरी का दिन

इस वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपियों ने 9 फरवरी का दिन चुना था. उस दिन गुरलाल किसान आंदोलन (Farmers Protest) में शामिल होने सिंघु बॉर्डर पहुंचे थे. और प्लान के मुताबिक, आरोपी भी उनके पीछे प्रदर्शन स्थल पर पहुंच गए थे. हालांकि दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर किसानों की भीड़ को देख उन्हें अपना प्लान फेल होता नजर आया और पकड़े जाने के डर से वो वापस लौट गए. 

ये भी पढ़ें:- इनवेस्टमेंट प्रूफ जमा करना भूल गए? अब भी ऐसे बचा सकते हैं Tax

कनाडा से मिला हत्या का आदेश

स्पेशल सेल के अधिकारियों ने बताया कि इसके बाद आरोपी पंजाब के फरीदकोट के लिए रवाना हो गए थे, जहां उन्होंने अगले कई दिनों तक रेकी की थी. इसके बाद उन्हें जैसे ही मौका मिला उन्होंने गुरलाल की हत्या कर दी. अधिकारियों के अनुसार, इस हत्या का मास्टरमाइंड कनाडा में है और वहीं से उसने अपने गुर्गों को टारगेट किलिंग करने के लिए बोला था.

ये भी पढ़ें:- यूथ कांग्रेस नेता हत्याकांड में 3 आरोपी गिरफ्तार, बीच सड़क पर बरसाई थीं गोलियां

क्या था पूरा मामला?

गौरतलब है कि बीते गुरुवार को दो बाइक सवार बदमाशों ने पंजाब के फरीदकोट में 34 वर्षीय युवा कांग्रेस नेता गुरलाल सिंह भुल्लर की 12 गोलियां मारकर हत्या कर दी थी. जिसके बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने इस मामले की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए थे. भुल्लर फरीदकोट युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष थे.

ये भी पढ़ें:- Maharashtra में क्या फिर लगेगा Lockdown? जानिए कितने बजे CM Uddhav Thackeray का संबोधन

तीन आरोपी हो चुके हैं गिरफ्तार

इस हत्याकांड मामले में अबतक तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. इनकी पहचान मुख्य साजिशकर्ता गुरिंदर पाल उर्फ गोरा, सुखविंद और सौरभ के रूप में हुई है. ये तीनों आरोपी फरीदकोट (Faridkot) के ही निवासी हैं और लॉरेंस बिश्नोई गैंग (Lawrence Bishnoi Gang) के सदस्य हैं.

LIVE TV



Source link