Punjab CM Captain Amarinder Singh says will not reply the call of Maohar Lal Khattar | Farmers Protest: CM खट्टर के आरोपों पर पंजाब के ‘कैप्टेन’ का पलटवार, बोले- ‘नहीं उठाउंगा उनका फोन’

0
21

चंडीगढ़: तीन कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे किसानों के आंदोलन (Farmer Protest) पर हरियाणा व पंजाब सरकार के बीच ठन गई है. हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) लगातार आरोप लगा रहे हैं कि ये किसान आंदोलन पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) द्वारा प्रायोजित है और इसमें हरियाणा के किसान भाग नहीं ले रहे हैं. हालांकि हरियाणा के मुख्यमंत्री के इस आरोप से पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह सहमत नहीं हैं. उनका कहना है कि किसानों को अपनी बात कहने के लिए दिल्ली जाने से नहीं रोका जाना चाहिये था, लेकिन हरियाणा सरकार ने ऐसा कर दिखाया.

 

हरियाणा-पंजाब CM के बीच ‘Twitter War’
मनोहर लाल खट्टर और कैप्टन अमरिंदर द्वारा एक दूसरे को निशाने पर लेने के बीच शनिवार को नया घटनाक्रम सामने आया. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शनिवार दोपहर को गुरुग्राम (Gurugram) में कहा कि मैंने किसानों के मुद्दे पर अमरिंदर सिंह से छह-सात बार बात करने की कोशिश की, लेकिन वह लाइन पर नहीं आए.इसके जवाब में शाम को कैप्टन ने कहा कि मनोहर लाल झूठ बोल रहे हैं और अब वह दस बार बात करना चाहे तो भी नही करेंगे.

ये भी पढ़ें- Farmers Protest: खुलकर किसानों के साथ आए Kejriwal, जेल के लिए नहीं दिए स्टेडियम

CMO Punjab/@CMOPb ने किया नेतृत्व!
हरियाणा सीएम मनोहर लाल के अनुसार ऐसी अजीबो-गरीब स्थिति पहली बार हुई है, जब एक मुख्यमंत्री दूसरे मुख्यमंत्री से बात करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन बात नहीं करवाई जा रही है. पिछले 6 साल में ऐसा पहली बार हुआ है अन्यथा पहले जब भी हम फोन करते तो व्यस्तता होने पर घंटे-आधे घंटे में बातचीत हो जाती थी. उन्होंने खुलकर कहा कि किसान आंदोलन के पीछे पंजाब सरकार की साजिश है. क्योंकि खुद उनके आफिस के कार्डहोल्डर आंदोलन में आगे-आगे चल रहे थे और किसानों का नेतृत्व कर रहे थे.

 

ये भी देखें – Farmers Protest: प्रदर्शन कर रहे किसानों से गृह मंत्री अमित शाह की अपील, कही ये बात

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने ये भी कहा कि किसान आंदोलन मुख्य रूप से पंजाब के राजनीतिक दल कांग्रेस तथा वहां के कुछ संगठनों द्वारा प्रायोजित है. आंदोलन के नाम पर जो राजनीतिक रोटियां सेकी जा रही हैं वो भी दुर्भाग्यपूर्ण है. हमारे अधिकारी उन्हें लगातार फोन मिलाते रहे, लेकिन कैप्टन अमरिंदर सिंह का स्टाफ हर बार यही जानकारी देता कि बातचीत अभी संभव नहीं है और थोड़ी देर में बात कराते हैं.

हरियाणा सीएम ने ये भी कहा कि किसान आंदोलन के नाम पर जो राजनीतिक रोटियां सेकी जा रहीं है, वो भी दुर्भाग्यपूर्ण है.

 

LIVE TV



Source link