Prakash Javadekar gives answer to rahul gandhi on farmers and farm laws | Farmers Protest: राहुल गांधी की बुकलेट पर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘कांग्रेस को खून शब्द से बहुत प्यार है’

0
22

नई दिल्ली: तीन नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन (Farmers Protest) दिल्ली की सीमाओं पर आज लगातार 55वें दिन जारी है. इस बीच किसानों के मुद्दे पर कांग्रेस और BJP आमने सामने आ गई हैं. मंगलवार को राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javdekar) ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि 4-5 परिवार देश पर हावी हैं. लेकिन मैं बता दूं कि देश पर अब किसी परिवार का राज नहीं है. 125 करोड़ जनता का राज है, ये परिवर्तन हुआ है. 70 साल तक कांग्रेस ने सरकार चलाई तो एक ही परिवार की सरकार चली.’

राहुल गांधी पर बरसे प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘कांग्रेस को खून शब्द से बहुत प्यार है. मैं याद दिलाना चाहता हूं कि आप खेती का खून कह रहे हैं. आपने खून का खेल खेला विभाजन के समय लाखों लोग मरे, क्या वो खून नहीं था? 

जावड़ेकर ने कहा कि कल किसान और सरकार के बीच 10वें राउंड की चर्चा है. कांग्रेस कैसे भी करके उसे असफल करना चाहती है क्योंकि कांग्रेस नहीं चाहती की किसान की समस्या का समाधान हो. किसान और सरकार की वार्ता सफल हो, ये कांग्रेस नहीं चाहती. 

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी ने जारी की ‘खेती का खून’ बुकलेट, कहा- ‘मैं PM Modi और BJP से नहीं डरता’

केंद्रीय मंत्री का राहुल गांधी से सवाल

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आगे कहा कि मैं राहुल गांधी से सवाल पूछ रहा हूं कि अगर आज देश का किसान गरीब रहा तो किसकी नीति से गरीब रहा? 50 साल कांग्रेस ने जो विनाशकारी नीति चलाई उसके चलते किसान गरीब रहा. कांग्रेस ने उसकी उपज का कभी मूल्य नहीं दिया. 

राहुल गांधी ने ‘खेती का खून’ शीर्षक से एक बुकलेट जारी किया

बता दें कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कृषि कानूनों के मुद्दे पर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा.  इस मौके पर उन्होंने ‘किसानों की पीड़ा’ पर ‘खेती का खून’ शीर्षक से एक बुकलेट जारी किया. उन्होंने कहा कि जब यूपीए की सरकार थी, तब किसानों का लाखों-करोड़ों रुपये का कर्जा माफ किया गया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी किसानों से बात नहीं करना चाहते हैं, ये उनका अंदाज ही नहीं है. 

उन्होंने कहा कि सरकार किसानों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है, सरकार किसानों से बात करने के लिए कह रही है. 9 बार बात हो गई, सरकार मामले में कोर्ट को घसीटती जा रही है. कांग्रेस नेता ने साफ किया कि कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से किसान आंदोलन का समर्थन करती है और केंद्र सरकार से मांग करती है कि तीनों कृषि कानूनों को तुरंत वापस लिया जाए. 

VIDEO



Source link