political reactions to it department raid on anurag kashyap and taapsee pannu, bjp replies to congress ncp | Anurag Kashyap और Taapsee Pannu के यहां IT रेड पर बरपा हंगामा, BJP ने दिया ये जवाब

0
29

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में बुधवार को आयकर विभाग (Income Tax) ने बॉलीवुड के बड़े चेहरों पर कार्रवाई की है. इस दौरान मुंबई और पुणे में 30 से ज्यादा जगह तलाशी ली गई. अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap), तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) जैसे कई बड़े नामों के यहां रेड के बाद हड़कंप मच गया. मामले को लेकर सियासी बयानबाजी जारी है. कांग्रेस और एनसीपी (NCP) ने कहा है कि ये सब सरकार के खिलाफ बोलने का खामियाजा है. वहीं बीजेपी का कहना है कि कार्रवाई नियमों के तहत हुई है.

एनसीपी ने साधा निशाना

रेड की खबर सामने आने के बाद महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार (MVA) में शामिल एनसीपी ने भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा. पार्टी के सीनियर नेता और मंत्री नवाब मलिक (Navab Malik ) ने कहा है कि अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू के यहां IT की छापेमारी पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ बोलने वालों की आवाज दबाने की कोशिश है. सरकार के खिलाफ रुख अपनाने वालों और शासन की नीतियों के विरुद्ध बोलने वालों के खिलाफ ईडी (ED), सीबीआई (CBI) जैसी एजेंसियों का इस्तेमाल हो रहा है. 

कांग्रेस ने लगाया आरोप

वहीं कांग्रेस नेता और प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले (Nana Patole) ने कहा, ‘मोदी की सच्चाई बताने वालों पर सीबीआई और ईडी को लगाने की प्रक्रिया कोई नई बात नहीं है. अभी जो हुआ है उसका कांग्रेस पुरजोर विरोध करती है. वहीं डीजल पेट्रोल के दाम मोदी सरकार जान बूझ कर बढ़ा रही है और जनता ये सब समझ रही है’. 

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण (Ashok  Chavan) ने कहा, ‘ये देश के लिए कोई नई बात नहीं है. आजकल रोज का यह मामला हो गया है कि जो भी केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी बात रखता है, उसपर दबाव बनाने का यह माध्यम हो गया है’.

ये भी पढ़ें- Taapsee Pannu, Anurag Kashyap और Vikas Bahl के ठिकानों पर IT की छापेमारी

नियमों के तहत कार्रवाई: BJP

इस कार्रवाई को लेकर कांग्रेस केंद्र सरकार को घेर रही है. वहीं, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस के सवालों की कोई गिनती है? जब सुरक्षा बल आतंकियों को मारते हैं, ये तब भी सवाल पूछते हैं. स्वाभिमान और सम्मान की रक्षा होती है तब भी कांग्रेस सवाल पूछती है. इसलिए जो एजेंसियां हैं उनको स्वतंत्र ढंग से काम कर देना चाहिए, इस पर सवाल उठाने का कोई फायदा नहीं है.  

वहीं दिल्ली में पत्रकारों के एक सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने कांग्रेस और एनसीपी आरोपों को खारिज कर दिया कि कश्यप और पन्नू के खिलाफ छापे उनकी टिप्पणियों से जुड़े हैं जो कई बार बीजेपी के आलोचक रहे हैं. उन्होंने एक सवाल पर कहा, ‘जांच एजेंसियां ​​विश्वसनीय सूचना के आधार पर जांच करती हैं और मामला बाद में अदालतों में भी जाता है’.

ये भी पढ़ें- Sonu Sood शुरू करेंगे देश का सबसे बड़ा Blood Bank, तैयार किया ये प्लान

क्या है मामला? 

छापेमारी की कार्रवाई फैंटम फिल्म्स और इसके प्रमोटर रहे अनुराग कश्यप, निर्माता विकास बहल और निर्माता-वितरक मधु मंटेना के खिलाफ कर चोरी की जांच के सिलसिले में की गई. फैंटम फिल्म्स को 2018 में बंद कर दिया गया था. सूत्रों ने बताया कि इन संस्थानों के बीच हुए कुछ लेन-देन विभाग की नजर में थे. वहीं टैक्स चोरी के आरोपों की जांच को आगे बढ़ाने के लिए सबूत एकत्रित करने के लिए यह कार्रवाई की गई.

आयकर विभाग के सूत्रों ने बताया कि इन संस्थानों के बीच हुए कुछ लेन-देन विभाग की नजर में थे और कर चोरी के आरोपों की जांच को आगे बढ़ाने के लिए सबूत एकत्रित करने के लिए यह कार्रवाई की गई. सूत्रों ने कहा कि फैंटम फिल्म्स के बैनर तले बनी फिल्मों से हुई कमाई की भी जांच की जा रही है. 

LIVE TV



Source link