PM Wani Scheme For wi fi revolution in India Latest Update in Hindi

0
59

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक (Cabinet Meeting) में अहम फैसला लिया गया. कैबिनेट बैठक में डिजिटल क्रांति को बढ़ावा देने के लिए पीएम-पब्लिक वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस (पीएम-वाणी- PM-WANI) को मंजूरी दी गई है. पीएम-वाणी (PM-WANI) के तहत देश में वाई-फाई क्रांति (Wi-Fi Revolution) आएगी.

आएगी वाई-फाई क्रांति
कैबिनेट की मंजूरी के बाद केंद्र सरकार के मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने पीएम-वाणी (PM-WANI) के बारे में बताते हुए कहा कि अब डिजिटल क्रांति के बाद वाई-फाई क्रांति भी आएगी. गांव, देहात और देश के दूर-दराज के इलाकों में भी वाई-फाई की सुविधा मिलेगी. लोगों को इंटरनेट के लिए किसी बड़ी कंपनी या बड़े प्लान की जरूरत नहीं होगी.

तीन स्तर पर होगा काम
केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने बताया सरकार देश भर में 1 करोड़ डाटा सेंटर खोलेगी. वाई-फाई क्रांति के लिए तीन स्तर पर काम किया जाएगा. इनमें पब्लिक डेटा ऑफिस, पब्लिक डेटा एग्रीगेटर और ऐप प्रोवाइडर शामिल हैं.

1. पब्लिक डेटा ऑफिस
पब्लिक डेटा ऑफिस (Public Data Office-PDO) मोबाइल फोन यूजर्स को वाई-फाई सेवा मुहैया कराने का काम करेंगे. पब्लिक डेटा ऑफिस कोई भी खोल सकता है. इसके लिए किसी भी तरह के लाइसेंस की जरूरत नहीं होगी. PDO कोई भी छोटा दुकानदार जैसे- चाय या किराने वाला भी हो सकता है.

यह भी पढ़ें: Indian Oil Carnival Offer: 400 का तेल भरवाकर जीत सकते हैं SUV कार और बहुत कुछ, जानें कैसे

2. पब्लिक डेटा ऑफिस एग्रीगेटर
पब्लिक डेटा ऑफिस एग्रीगेटर इस पूरी व्यवस्था के लिए काम करेंगे. ये पब्लिक डेटा ऑफिस के अकाउंट का हिसाब भी रखेंगे.

3. ऐप प्रोवाइडर
ऐप स्टोर के अलावा वेबसाइट पर भी ये ऐप रहेगा. जो भी ऐप प्रोवाइडर होगा उसे एक हफ्ते के भीतर रजिस्ट्रेशन करने का काम दिया जाएगा.

LIVE TV



Source link