PM Narendra Modi mentioned in Mann ki Baat how new agricultural law helped in getting the farmers money | नए कृषि कानून ने किसान के पैसे दिलवाने में ऐसे की मदद, PM मोदी ने किया जिक्र

धुले: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने आज मन की बात (Mann Ki Baat) कार्यक्रम में महाराष्ट्र के धुले के किसान जितेंद्र भोई का उदाहरण देकर बताया कि कैसे नए कृषि कानून किसानों को उनकी फसल की अच्छी कीमत दिलाने में मदद कर रहे हैं.

महाराष्ट्र के धुले जिले के किसान, जितेंद्र भोई ने नए कृषि कानून का इस्तेमाल कैसे किया, आपको ये जानकर हैरानी होगी. जितेंद्र भोई ने मक्के की खेती की थी और सही दाम पाने के लिए उसे व्यापारियों को बेचना तय किया. इसके बाद फसल की कुल कीमत 3 लाख 32 हजार रुपये तय हुई और बिकी.

फिर जितेंद्र भोई को 25 हजार रुपये एडवांस भी मिल गए थे. तय ये हुआ था कि बाकी का पैसा उन्हें 15 दन में चुका दिया जाएगा. लेकिन बाद में परिस्थिति ऐसी बनी कि उन्हें बाकी का पेमेंट नहीं मिला. किसान से फसल खरीद लो, महीनों-महीनों पेमेंट न करो, हो सकता है मक्का खरीदने वाले वर्षों से चली आ रही उसी परंपरा को निभा रहे थे.

ये भी पढ़ें- Rajinikanth कल ले सकते हैं विधान सभा चुनावों पर फैसला, करेंगे बड़ा ऐलान

इसी तरह 4 महीने तक जितेंद्र भोई का पेमेंट नहीं हुआ. इस स्थित में उनकी मदद सितंबर में संसद में पास हुए नए कृषि कानून ने की. इस कानून में ये तय किया गया है कि फसल खरीदने के 3 दिन में ही, किसान को पूरा पेमेंट करना पड़ता है और अगर पेमेंट नहीं होता है तो किसान शिकायत दर्ज कर सकता है.

बता दें कि एक तरफ जहां देश की राजधानी दिल्ली के बॉर्डर पर केंद्र सरकार के नए कृषि कानून के विरोध में किसान आंदोलन (Farmers Protest) कर रहे हैं. वहीं आज मन की बात (Mann Ki Baat) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने नए कृषि कानूनों के फायदे समझाए.

ये भी पढ़ें- गाड़ियों के PUC सर्टिफिकेट के बदलने वाले हैं नियम, चूके तो होगी जेल!

प्रधानमंत्री ने कहा कि कृषि सुधारों ने किसानों के लिए नए द्वार खोले हैं. देश के किसानों की वर्षों पुरानी मांगें पूरी हुई हैं. संसद ने कृषि सुधारों को कानून का रूप दिया. किसानों के बंधन खत्म हो गए और उन्हें नए अधिकार व अवसर मिले. किसानों की परेशानियां भी कम होनी शुरू हो गई हैं.

पीएम मोदी ने आगे कहा कि अब फसल खरीद के 3 दिन के अंदर भुगतान का नियम है. पूरा भुगतान नहीं मिलने पर शिकायत का प्रावधान भी किया गया है. क्षेत्र के एसडीएम को एक महीने में निपटारा करना होगा.

LIVE TV



Source link

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,427FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles

%d bloggers like this: