PIB Fact Check calls Priyanka Gandhi Facebook post on Adani and Indian Railway misleading

0
68

नई दिल्ली:  कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) की तरफ से सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया गया है, इस पोस्ट को पीआईबी फैक्ट चेक ने ‘भ्रामक’ बताया है. पीआईबी के मुताबिक यह एक विज्ञापन है, जबकि प्रियंका गांधी पोस्ट के जरिए सरकार पर प्राइवेटाइजेशन का आरोप लगा रही हैं.

प्रियंका का पोस्ट के जरिए सरकार पर निशाना
दरअसल प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर 14 दिसंबर को एक वीडियो पोस्ट किया गया. पोस्ट में प्रियंका गांधी ने लिखा है, ‘जिस भारतीय रेलवे (Indian Railway) को देश के करोड़ों लोगों ने अपनी मेहनत से बनाया, भाजपा (BJP) सरकार ने उस पर अपने अरबपति मित्र अडानी का ठप्पा लगवा दिया. कल को धीरे-धीरे रेलवे का एक बड़ा हिस्सा मोदी जी के अरबपति मित्रों को चला जाएगा. देश के किसान, खेती-किसानी को भी आज मोदी जी के अरबपति मित्रों के हाथ में जाने से रोकने की लड़ाई लड़ रहे हैं.’

पीआईबी ने बताया विज्ञापन
प्रियंका गांधी के इसी पोस्ट को केंद्र सरकार की एजेंसी पीआईबी (PIB) ने भ्रामक बताया है. PIBFactCheck ने ट्वीट किया है, ‘रेल पर दिख रहा निजी कंपनी का प्रतीक चिन्ह केवल एक विज्ञापन है.’
 

साथ ही पीआईबी ने लिखा है- 
दावा: #फेसबुक पर एक वीडियो के साथ यह दावा किया जा रहा है कि सरकार ने भारतीय रेल पर एक निजी कंपनी का ठप्पा लगवा दिया है. 
#PIBFactCheck: यह दावा भ्रामक है. यह केवल एक वाणिज्यिक विज्ञापन है जिसका उद्देश्य केवल ‘गैर किराया राजस्व’ को बेहतर बनाना है.

यह भी पढ़ें: Mamata Banerjee पर ओवैसी का पलटवार, कहा- ‘मुझे पैसे देकर खरीदने वाला कोई पैदा नहीं हुआ’

बता दें, कांग्रेस लगातार सरकार पर तमाम सरकारी संस्थाओं के प्राइवेटाइजेशन का आरोप लगा रही है. विपक्ष सरकार पर कुछ बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने के आरोप भी लगाता रहा है. नए कृषि कानूनों को लेकर हो रहे किसानों के प्रदर्शन को भी इसके साथ जोड़ने की लगातार कोशिश की जा रही है लेकिन सरकार इन आरोपों को खारिज करती है. इस बार भी प्रियंका गांधी के दावे को सिरे से खारिज कर दिया गया है. 

LIVE TV



Source link