Notice will be issued to the company making elevated road, sought report of Ladowal bypass | एलिवेटेड रोड बना रही कंपनी को जारी होगा नोटिस, लाडोवाल बाईपास की मांगी रिपोर्ट

0
51


लुधियाना13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

वीरवार को फिरोजुपर रोड पर प्रोजेक्ट की स्थिति जानते डीसी। एनएचएआई अफसर भी उनके साथ थे।

  • वेरका नहर से भारत नगर चौक तक चल रहे एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट के निर्माण कार्य की चेकिंग के लिए अफसरों के साथ पहुंचे डीसी ने फिर जताई असंतुष्टि

शहर में चल रहे नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) के प्रोजेक्टों की सच्चाई जानने के लिए डीसी वरिंदर कुमार शर्मा वीरवार को दौरे पर निकले। इस दौरान सबसे अहम एलिवेटेड प्रोजेक्ट को लेकर उन्होंने शहर के सबसे अहम वेरका नहर से भारत नगर चौक तक जाते हिस्से में चल रहे पुल के निर्माण की सच्चाई जानी। काम की धीमी रफ्तार को देखते हुए डीसी ने इस पर असंतोष जताया। इस मौके पर ही प्रोजेक्ट डायरेक्टर को कहा कि जो वादा पिछली मीटिंग में किया था, उसके अनुसार यहां काम नहीं चल रहा है।

इस पर उन्होंने प्रोजेक्ट डायरेक्टर को साफ कह दिया कि हर महीने यहां पर चार स्लैब हर हाल में डाली जानी चाहिएं। उन्होंने कहा कि कंपनी को नोटिस जारी किया जाना चाहिए। इसके बाद उन्होंने लाडोवाल बाईपास का दौरा कर प्रोजेक्ट डायरेक्टर से कहा कि तय की गई डेडलाइन को हर हाल में सुनिश्चित किया जाए। इस दौरान उन्होंने संबंधित एरिया में लगते हाईवे के एसडीएम से भी कह दिया है कि वह प्रोजेक्ट की मॉनिटरिंग कर समय-समय पर स्टेट्स रिपोर्ट पेश करेंगे।

बता दें कि भास्कर ने एलिवेटेड प्रोजेक्ट के तहत वेरका नहर पुल से भारत नगर चौक तक चल रहे धीरे निर्माण कार्य का मुद्दा गंभीरता से उठाया था। इसके बाद डीसी ने रिव्यू मीटिंग बुलाई थी। इसमें प्रोजेक्ट डायरेक्टर ने ये विश्वास दिलाया था कि वह हर महीने में चार स्लैब डालेंगे। इसकी रियलटी देखने के लिए वीरवार को डीसी ने प्रोजेक्ट का दौरा किया ताे फिर धीमी चाल में ही काम नजर आया।

विवाद सुलझाया : अब फिरोजपुर रोड से समराला चौक तक जलेंगी लाइटें

फिरोजपुर रोड चुंगी से लेकर समराला चौक तक एनएचएआई के प्रोजेक्ट के तहत बंद रहती स्ट्रीट लाइटों के बंद रहने के मामले आखिर हल हो गया है। एनएचएआई और निगम कमिश्नर के समक्ष वीरवार को मीटिंग हुई। इस दौरान मीटिंग में फैसला हुआ है कि जहां पर पोल लगाने की जरूरत होगी और लाइटें लगाने की जरूरत होगी, वहां पर प्रोजेक्ट के कंप्लीट होने तक एनएचएआई ये काम करेगा। जबकि स्ट्रीट लाइटों के जलने का खर्चा निगम अपने स्तर पर उठाएगा। इसकी पुष्टि निगम कमिश्नर प्रदीप कुमार सभ्रवाल की ओर से की है। उन्होंने ये भी बताया कि पक्खोवाल रोड और सराभा नगर में चल रहे निर्माण कार्य के दौरान बंद स्ट्रीट लाइटें शुरू करने के आदेश जारी कर दिए हैं।



Source link