Most of the Indian Intelligence Agencies are active on Singhu Border due to Farmers Protest | किसानों पर रखी जा रही पैनी नजर, सिंघु बॉर्डर पर सक्रिय सबसे ज्यादा खुफिया एजेंसी

0
10

नई दिल्ली: नए कृषि कानून के विरोध (Farmers Protest) में दिल्ली कूच पर आमदा हजारों किसान पिछले 8 दिनों से दिल्ली के सभी बॉर्डर पर डटे हुए हैं. ऐसे में एक तरफ जहां सरकार किसानों से बात कर आंदोलन के खत्म कराने की कोशिश कर रही है, वहीं दूसरी ओर सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर सबसे ज्यादा खुफिया एजेंसियों के सक्रीय होने की सूचना मिली है. बॉर्डर पर हरियाणा सीआईडी (CID) के अलावा इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) और दिल्ली स्पेशल ब्रांच (Delhi Special Branch) के अफसर सादी वर्दी में एक्टिव हैं जो पल की अपडेट जुटा रहे हैं.
 
30 हजार किसानों ने डाला सिंघु बॉर्डर पर डेरा
जानकारी के अनुसार, इन्हीं अफसरों से मिलने वाली इन्फो के आधार पर अलग-अलग स्थानों पर सुरक्षाबलों की संख्या को घटाया या बढ़ाया जा रहा है. करीब 30 हजार किसानों की भीड़ में सिंघु बॉर्डर इन अफसरों को पहचान पाना कोई आसान काम नहीं है. हालांकि रात में ये संख्या कुछ कम हो जाती है क्योंकि आसपास के किसान रात के वक्त अपने-अपने घरों में सोने के लिए चले जाते हैं. लेकिन खुफिया एजेंसी की लगातार उन पर नजर रखती रहती है. 

सिंघु बॉर्डर पर 15 किलोमीटर दूर तक बैठे हैं किसान
अगर सिंघु बॉर्डर जाएं तो तकरीबन 15 किलोमीटर दूर तक आपको किसान ही बैठे नजर आएंगे. पुलिस सूत्रों की मानें तो ये भीड़ दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. और आने वाले दिनों में इसके अधिक बढ़ने के चांस हैं. सीआईडी के मुताबिक, अभी सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों के तेवर तल्ख हैं. वो किसी भी कीमत पर हटने को तैयार नहीं हैं. जब तक कानून वापस नहीं होगा तब तक ये नहीं हटने की जीद पकड़े बैठे हैं. 

खुफिया जानकारी देख फुले एजेंसी के हाथ पांव
धरने पर बैठे लोग अपना खाना खुद बना रहे हैं. इतना ही नहीं वो बॉर्डर पर ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों और अन्य लोगों को भी खाना बांट रहे हैं. पुलिस के अनुसार, धरने पर बैठे लोग काफी ज्यादा एक्टिव हैं. अगर कोई भी फोटो खींचता हुआ दिख रहा है तो उससे बकायदा शक होने पर पूछताछ की जा रही है. 2-3 दिसम्बर की रात धरने पर बैठे लोगों में 6 लोगों को पकड़ा भी गया था जो फोटो खींच रहे थे. इन्हें बाद में पुलिस के हवाले कर दिया था. कुल मिलाकर जिस तरह की इन्फॉर्मेशन इकठ्ठा हुई है उससे एजेंसियों के हांथ पांव फुले हुए हैं.

LIVE TV



Source link