Maulanas threaten Wasim Rizvi on the verses of the Quran |Quraan की आयतों में सुधार की मांग पर हंगामा, Waseem Rizvi को जान से मारने की मिल रही धमकियां

0
25

नई दिल्ली: यूपी शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) ने कुरान (Quraan) में सुधार की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है. रिजवी ने कहा है कि इसकी 26 आयतें (Verses) कट्टरपन को बढ़ाने वाली हैं और मारकाट को बढ़ावा देती हैं. उनकी इस PIL पर मौलवी-मौलाना उनके पीछे पड़ गए हैं. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दायर करने पर वसीम रिजवी को जान से मारने और इस्लाम से खारिज करने की धमकियां दी जा रही हैं.  

कुरान पर क़ानूनी जंग क्यों?

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) कहते हैं,’ कुरान में 26 आयतें (Verses) ऐसी देखने को मिलती हैं, जिनमें इंसान को बताया जाता है कि तुम दूसरे धर्मों से अलग हो. तुम्हें कत्ल करने की छूट दी गई है. तुम काफिरों का कत्ल कर दो. ऐसी तमाम आयतें हैं, जिन्हें हटाने के लिए हमने अपनी PIL सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की है.’ 

वसीम रिजवी की PIL पर क्या है दलील?

वसीम रिजवी कहते हैं,’बाकी आयतों के साथ ये 26 आयतें (Verses) मदरसों में बच्चों को पढ़ाई जाती हैं. इस्लाम की बेसिक पढ़ाई कुरान ए मजीद है, जो मुसलमानों को बचपन से ही पढ़ाई जाती है. जब वो बच्चा इस तरह की चीजों को पढ़ेगा तो आगे जाकर वो किसी ना किसी कट्टरपंथी मानसिकता का शिकार हो जाता है.’

कुरान की 26 आयतों पर संग्राम!

मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद फिरंगी महली कहते हैं, ’15-16 आयतें तो दूर की बात हैं. दुनिया की कोई भी ताकत और कुव्वत कुरान में किसी तरह की तब्दीली नहीं कर सकती है.’ शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद भी इस याचिका पर कुछ ऐसी ही राय रखते हैं. वे कहते हैं, ‘जो भी ऐसा कह रहा है, वो गलत कह रहा है. वो इस्लाम का दुश्मन है और इस्लाम के दुश्मनों का एजेंट है.’

‘वसीम पर करोड़ों लानत भेजता हूं’

मौलाना कारी इस्हाक गोरा भड़कते हुए कहते हैं,’मैं वसीम रिजवी पर हजार नहीं लाखों नहीं, करोड़ों लानत भेजता हूं. मैं नहीं, तमाम मुसलमान उस पर लानत भेजते हैं.’ बिहार शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन अफजल अब्बास भी इस मामले पर खुलकर नाराजगी जताते हैं. वे कहते हैं, ‘फतवा लेकर उसको इस्लाम से खारिज करने की कोशिश करें, ताकि हिंदुस्तान में आपसी भाई-चारा बढ़ता रहे वरना ये नफरत की बुनियाद पर राजनीति करना चाहता है.’

कुरान की 26 आयतों पर सवाल क्यों?

बता दें कि शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन सैयद वसीम रिज़वी ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में एक जनहित याचिका दाखिल की है. वसीम रिजवी ने कुरान (Quraan) की 26 आयतों को हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है. उस पर अभी कोई सुनवाई नहीं हुई है लेकिन उससे पहले ही मौलानाओं ने उग्र माहौल बनाना शुरू कर दिया.

LIVE TV



Source link