Mamata Banerjee and Amit Shah to address rallies in South 24 Parganas district on same time | WB Assembly Election: 24 परगना जिले में आमने-सामने ममता बनर्जी-अमित शाह, महज कुछ किलोमीटर की दूरी पर करेंगे रैली

0
87

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में इस साल होने वाले विधान सभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) के लिए सभी पार्टियों ने कमर कस ली है और भारतीय जनता पार्टी (BJP) राज्य में सत्तारूढ़ टीएमसी (TMC) की सीधी टक्कर देने के लिए तैयार है. इसी के तहत केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) आज (गुरुवार) कोलकाता के पड़ोसी दक्षिण 24 परगना जिले में रैली करेंगे और इससे थोड़ी ही दूरी पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) रैली को संबोधित करेंगी.

एक ही समय पर होगी शाह-ममता की रैलियां

पश्चिम बंगाल में आगामी चुनावों के लिए पहली बार ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और अमित शाह (Amit Shah) आज (18 फरवरी) एक ही जिले में लगभग एक ही समय पर रैलियां करेंगे. इसके लिए अमित शाह बुधवार रात ही से बंगाल पहुंच गए हैं.

ये भी पढ़ें- प्रशांत किशोर पर दिनेश त्रिवेदी का निशाना, कहा- ट्वीट वे करते थे, बदनामी मेरी हो रही थी

लाइव टीवी

अमित शाह का कार्यक्रम

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) का दक्षिण 24 परगना जिले में सागर द्वीप के पास काकद्वीप क्षेत्र का दौरा करने का कार्यक्रम है, जहां वे राज्य में भाजपा की पांच चरणों की रथयात्रा के अंतिम चरण को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. इसके अलावा अमित शाह आज कपिल मुनि आश्रम भी जाएंगे और फिर वहां से नामखाना जाएंगे, जहां वह परिवर्तन यात्रा को संबोधित करेंगे.

ममता बनर्जी का कार्यक्रम

इस बीच, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और उनके भतीजे व पार्टी के स्थानीय सांसद अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) आज दक्षिण 24 परगना के पैलन में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करने वाले हैं. दक्षिण 24 परगना टीएमसी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि राजनीतिक रूप से यह काफी महत्वपूर्ण दिन है. शाह और दीदी दोनों एक ही जिले में रैलियों को संबोधित करेंगे.’

प्रतिद्वंद्वी बनकर उभरी है भाजपा

दशकों से राजनीतिक रूप से ध्रुवीकृत पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सीमित उपस्थिति होने के बाद भाजपा (BJP) ने 2019 के आम चुनाव में राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत हासिल की थी और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC) की मुख्य प्रतिद्वंद्वी बनकर उभरी है. बता दें कि टीएमसी ने लोक सभा चुनाव में 22 सीटों पर जीत दर्ज की थी, लेकिन बीजेपी उससे सिर्फ चार सीट दूर रही थी.
(भाषा से इनपुट)



Source link