Indian vaccine diplomacy wins global praise, now Caribbean countries will receive vaccine| पड़ोसियों की मदद के बाद अब Caribbean Countries को Vaccine प्रदान करेगा भारत, दुनिया हुई मुरीद

0
18

नई दिल्ली: भारत की वैक्सीन डिप्लोमेसी (Vaccine Diplomacy) की पूरी दुनिया कायल हो गई है. जिस तरह से भारत ने मुश्किल वक्त में दूसरे देशों का साथ दिया है, उससे संयुक्त राष्ट्र (UN) तक प्रभावित है. नई दिल्ली यूएन चीफ की उस चिंता को भी दूर करने में लगी है, जिसमें उन्होंने सभी देशों को समान रूप से वैक्सीन (Vaccine) उपलब्ध कराने पर जोर देते हुए कहा था कि सिर्फ 15 देशों में 70 फीसदी वैक्सीन इस्तेमाल हो रही है. इसके मद्देनजर अब भारत पड़ोसी देशों को वैक्सीन उपलब्ध कराने के बाद कैरेबियाई देशों का रुख कर रहा है.

मुफ्त दी जाएगी Vaccine

भारत (India) अब ऐसे देशों को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) उपलब्ध कराने की तैयारी कर रहा है, जो महामारी से जंग में पीछे छूट रहे थे. विदेश मंत्रालय के मुताबिक, लैटिन अमेरिका, कैरैबियाई देशों और अफ्रीका महाद्वीप (Latin America, Caribbean, Africa) के कुल 49 देशों में वैक्सीन की सप्लाई की योजना बनाई जा रही है. कहा गया कि ये वैक्सीन गरीब देशों को मुफ्त में उपलब्ध कराई जाएगी. बता दें कि वैक्सीन डिप्लोमेसी के तहत भारत ने अब तक दुनिया में वैक्सीन के 22.9 मिलियन टीके बांटे हैं, जिसमें 64 लाख से ज्यादा गरीब देशों को बतौर गिफ्ट दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें -महाराष्ट्र में तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, तीन महीने बाद एक दिन में सबसे ज्यादा 6,000 मामले

UN से भी किया है वादा  

भारत बांग्लादेश, नेपाल, भूटान, म्यांमार, श्रीलंका आदि देशों को पहले ही वैक्सीन उपलब्ध करा चुका है. इसके अलावा उसने डोमिनियन रिपब्लिक (Dominican Republic) को कोरोना के 30 हजार टीके दिए हैं. इसी तरह फरवरी की शुरुआत में भारत ने बारबाडोस को 10 हजार टीके उपलब्ध कराए थे. वहीं, संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के लिए भी भारत ने दो लाख से ज्यादा वैक्सीन देने का वादा किया है. यही कारण है कि पूरी दुनिया भारत की वैक्सीन डिप्लोमेसी की मुरीद हो गई है. 

Foreign Media में तारीफ

दुनिया के कई देशों के अलावा अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी भारत की Vaccine Diplomacy की चर्चा है. वॉल स्ट्रीट जर्नल के पत्रकार एरिक बेलमन (Eric Bellman) ने अपने एक ट्वीट में कहा कि वैक्सीन डिप्लोमेसी की रेस में भारत ने सबको चौंका दिया है और वैश्विक लीडर बनकर उभरा है. उन्होंने आगे लिखा कि भारत ने अपने नागरिकों के लिए तय की गई वैक्सीन की संख्या के मुकाबले तीन गुना ज्यादा टीका दुनिया भर के देशों को निर्यात किया है. इतना ही नहीं वह अभी और टीके निर्यात कर सकता है. वहीं, न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारत की वैक्सीन डिप्लोमेसी को चीन को काउंटर करने की कोशिश बताया है. अपनी एक रिपोर्ट में न्यूयॉर्क टाइम्स ने लिखा कि भारत बेमिसाल वैक्सीन निर्माता देश है, जो अपने पड़ोसियों और गरीब देशों को करोड़ों वैक्सीन उपलब्ध करा रहा है.

 



Source link