DNA ANALYSIS blast near Israeli Embassy on 29th Anniversary of India Israel Diplomatic Relations | DNA ANALYSIS: India-Israel Diplomatic Relations की वर्षगांठ पर दूतावास के पास धमाका

0
46

नई दिल्ली: शुक्रवार को दिल्ली में इजरायल (Israel) के दूतावास के बाहर एक बम धमाका हुआ. इजरायल ने इसे एक आतंकवादी हमला माना है. जब ये धमाका हुआ, उस समय इस दूतावास से सिर्फ थोड़ी ही दूरी पर गणतंत्र दिवस समारोह से जुड़ा Beating The Retreat कार्यक्रम हो रहा था. जिसमें प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति भी शामिल थे.

भारत और इजरायल (Israel) ने शुक्रवार को अपने राजनयिक संबंधों की 29वीं वर्षगांठ को मनाया. इसी समारोह के बीच भारत के दोस्त इजरायल के दूतावास के बाहर धमाका हो गया. इस समय दिल्ली पुलिस किसान आंदोलन की तैयारियों में व्यस्त थी. जिसकी वजह से आतंकवादियों को भारत पर पीछे से हमला करने का मौका मिल गया.

ये धमाका इजरायल के दूतावास के बाहर फुटपाथ पर हुआ. एक चलती कार से IED यानी Improvised Explosive Device फेंका गया. हालांकि कम तीव्रता के इस ब्लास्ट में कोई घायल नहीं हुआ.

ये धमाका दिल्ली के एक महत्वपूर्ण इलाके में हुआ है. यहां से इंडिया गेट की दूरी सिर्फ डेढ़ किलोमीटर है. इसी जगह के पास विजय चौक पर Beating The Retreat कार्यक्रम हो रहा था और वहां से इस दूतावास की दूरी सिर्फ डेढ़ किलोमीटर है.

यहां से राष्ट्रपति भवन की दूरी लगभग 2 किलोमीटर है और प्रधानमंत्री का निवास इस दूतावास से करीब ढाई किलोमीटर दूर है. ये पूरा इलाका एक VVIP जोन है, जहां पर सुरक्षा के सबसे कड़े इंतजाम होते हैं.

VIDEO

दिल्ली पुलिस के साथ कई और केंद्रीय जांच एजेंसियां भी इस धमाके की जांच में शामिल हैं. गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस और खुफिया एजेंसियों से इस घटना की जानकारी ली है. इसके अलावा विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने इस घटना के बाद इजरायल के राजदूत से बात की और उन्हें पूरी सुरक्षा का भरोसा दिया.

पिछले कुछ समय से दिल्ली पुलिस गणतंत्र दिवस की सुरक्षा व किसान आंदोलन की तैयारियों में व्यस्त थी और आतंकवादियों ने इसी मौके का फायदा उठाया. आप कह सकते हैं कि 26 जनवरी को हुई हिंसा और उसके बाद हुई घटना की वजह से देशविरोधियों को इस हमले का मौका मिला है.

इससे पहले वर्ष 2012 में भी इजरायल के एक राजदूत की कार पर बम लगाकर हमला किया गया था. उस समय इस हमले का आरोप ईरान के नागरिकों पर लगा था. इसके लिए एक भारतीय पत्रकार ने उनकी मदद की थी.

इजरायल एक छोटा सा देश है और भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है. दोनों देशों के बीच बहुत करीबी रिश्ते हैं. भारत की राजधानी दिल्ली की जनसंख्या पूरे इजरायल के मुकाबले तीन गुना से भी ज्यादा है. लेकिन हथियारों के मामले में इजरायल पूरी दुनिया में सबसे आगे रहने वाले देशों में एक है.

साल 2019 में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट पर हवाई हमला किया था और इस हमले में अचूक निशाना लगाने के लिए जिस Bomb का इस्तेमाल किया गया था. वो भारत ने इजरायल से ही खरीदा गया था. इस समय इजरायल हमारा सबसे करीबी डिफेंस पार्टनर है.

LIVE TV



Source link