Corona Vaccine: Doctors, Scientists and Medical professionals write open letter against misinformation being spread about Covid-19 vaccine | Corona Vaccine के दुष्प्रचार को लेकर देश के डॉक्टरों-वैज्ञानिकों ने लिखा खुला पत्र, जानें क्या कहा

0
106

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ 16 जनवरी से देशभर में टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है. इस बीच कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर चल रहे दुष्प्रचार के खिलाफ देश के डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने एक ओपन लेटर लिखा है.

49 डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने किया साइन

कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर लिखी चिट्ठी में एम्स के पूर्व डायरेक्टर टीडी डोगरा समेत 49 डॉक्टरों, वैज्ञानिकों व मेडिकल प्रोफेशनल ने साइन किया है और कहा है कि वैक्सीन के खिलाफ बयान से भारतीय वैज्ञानिक समुदाय की साख पर असर पड़ता है.

चिट्टी में डॉक्टरों-वैज्ञानिकों ने क्या कहा

चिट्ठी में कहा गया है कि भारत कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की आपूर्ति के मामले में ग्लोबल लीडर के तौर पर उभरा है. भारत में बनी वैक्सीन 188 देशों में निर्यात की जाती है. फिर भी कुछ लोग वैक्सीन को लेकर मीडिया में बयान देकर वैज्ञानिकों को बदनाम कर रहे हैं और राजनीति से प्रेरित बयान दे रहे हैं.

ये भी पढ़ें- सरकार ने गर्भवती महिलाओं को कोरोना वैक्सीन लगवाने से किया सख्त मना, जानें क्या है कारण

लाइव टीवी

डॉक्टरों-वैज्ञानिकों ने देश के लोगों से की अपील

चिट्ठी में डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने देश के लोगों से भी अपील की है और कहा है कि कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर चल रहे राजनीतिकरण के चक्कर में ना आए और डॉक्टरों, वैज्ञानिकों व मेडिकल प्रोफेशनल समुदाय को कलंकित करने की कोशिशों में ना पड़ें.

ये भी पढ़ें- AADHAAR को तुरंत कीजिए मोबाइल से लिंक, 16 जनवरी से तभी मिलेंगी कोरोना वैक्सीन

पीएम मोदी करेंगे टीकाकरण की शुरुआत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जनवरी को देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत करेंगे. पीएमओ ने जारी बयान में बताया, ‘पीएम नरेंद्र मोदी 16 जनवरी को सुबह 10.30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत करेंगे. यह विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान होगा.’

इन 2 वैक्सीन को मिली है इस्तेमाल की मंजूरी

बता दें कि ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने को सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दी है.



Source link