Clean Water Will Soon Reach Anganwadis Of Villages In Punjab – पंजाब : अब 100 दिन में गांवों और शहरों की आंगनबाड़ियों में पहुंचेगा साफ पानी  

0
108

पंजाब की आंगनबाड़ियों में भी पाइप के जरिए स्वच्छ जल पहुंच जाएगा।
– फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

पंजाब के 22322 सरकारी स्कूलों में पाइप के जरिए स्वच्छ जल पहुंचाने के बाद अब प्रदेश की आंगनबाड़ियों में भी पाइप के जरिए 100 दिन में स्वच्छ जल पहुंच जाएगा। इस कार्य में जुटे पंजाब के आठ विभागों की तैयारियां अंतिम रूप में पहुंच चुकी हैं। पंजाब सरकार ने मिशन तंदुरुस्त के तहत यह मुहिम शुरू की है।

30 दिसंबर, 2020 को सोसाइटी फार मिशन तंदुरुस्त पंजाब को स्थापित करने को मंजूरी दी गई थी। इस सोसायटी को बनाने का उद्देश्य मिशन तंदुरुस्त पंजाब का कायाकल्प करना है, जिससे सरकार की प्रदेश के हर घर तक पूर्ण पहुंच हो सके और लोगों को स्वच्छ वातावरण मिल सके। इस मिशन को पूर्ण करने के लिए सरकार की ओर से आठ विभागों को संयुक्त रूप से शामिल किया गया है। 

इनमें स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की जिम्मेदारी मानक भोजन और आरोगी स्वास्थ्य, वन और वन्य जीव रक्षा की तरफ से ग्रीन पंजाब, परिवहन सड़क सुरक्षा, खेल और युवा सेवाओं की तरफ से खेलो पंजाब, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की तरफ से उपजाऊ मिट्टी, महिला और बाल विकास की तरफ से पौष्टिक खाद्य, वातावरण मंत्रालय की तरफ से साफ हवा, साफ पानी का प्रबंधन शामिल है। 
हाल ही में इस मिशन के तहत पंजाब के सभी 17328 सरकारी और 4994 प्राइवेट स्कूलों को पाइप लाइन के जरिए स्वच्छ जल मुहैया कराया जा चुका है। 

वार्षिक कार्ययोजना पर होता है काम
मिशन में शामिल सरकार के आठ विभाग निर्धारित बिंदुओं पर वार्षिक कार्ययोजना तैयार करते हैं। जिसके अनुरूप ही मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की देखरेख में काम किया जाता है। साथ ही केंद्रीय स्तर पर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित समीक्षा बैठक में मिशन के तहत किए जाने वाले कार्यों की समीक्षा की जाती है।

 

पंजाब के 22322 सरकारी स्कूलों में पाइप के जरिए स्वच्छ जल पहुंचाने के बाद अब प्रदेश की आंगनबाड़ियों में भी पाइप के जरिए 100 दिन में स्वच्छ जल पहुंच जाएगा। इस कार्य में जुटे पंजाब के आठ विभागों की तैयारियां अंतिम रूप में पहुंच चुकी हैं। पंजाब सरकार ने मिशन तंदुरुस्त के तहत यह मुहिम शुरू की है।

30 दिसंबर, 2020 को सोसाइटी फार मिशन तंदुरुस्त पंजाब को स्थापित करने को मंजूरी दी गई थी। इस सोसायटी को बनाने का उद्देश्य मिशन तंदुरुस्त पंजाब का कायाकल्प करना है, जिससे सरकार की प्रदेश के हर घर तक पूर्ण पहुंच हो सके और लोगों को स्वच्छ वातावरण मिल सके। इस मिशन को पूर्ण करने के लिए सरकार की ओर से आठ विभागों को संयुक्त रूप से शामिल किया गया है। 

इनमें स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की जिम्मेदारी मानक भोजन और आरोगी स्वास्थ्य, वन और वन्य जीव रक्षा की तरफ से ग्रीन पंजाब, परिवहन सड़क सुरक्षा, खेल और युवा सेवाओं की तरफ से खेलो पंजाब, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की तरफ से उपजाऊ मिट्टी, महिला और बाल विकास की तरफ से पौष्टिक खाद्य, वातावरण मंत्रालय की तरफ से साफ हवा, साफ पानी का प्रबंधन शामिल है। 

हाल ही में इस मिशन के तहत पंजाब के सभी 17328 सरकारी और 4994 प्राइवेट स्कूलों को पाइप लाइन के जरिए स्वच्छ जल मुहैया कराया जा चुका है। 

वार्षिक कार्ययोजना पर होता है काम

मिशन में शामिल सरकार के आठ विभाग निर्धारित बिंदुओं पर वार्षिक कार्ययोजना तैयार करते हैं। जिसके अनुरूप ही मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की देखरेख में काम किया जाता है। साथ ही केंद्रीय स्तर पर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित समीक्षा बैठक में मिशन के तहत किए जाने वाले कार्यों की समीक्षा की जाती है।

पंजाब सभी स्कूलों में पाइप के जरिए स्वच्छ जल पहुंचाने वाला देश का पहला राज्य बन चुका है। अब 100 दिन में प्रदेश की आंगनबाड़ियों में पाइप के जरिए स्वच्छ जल पहुंचाया जाएगा। जल्द ही इसको लेकर सरकार की ओर से घोषणा की जाएगी। – विजय इंदर सिंगला, शिक्षा मंत्री, पंजाब सरकार

 

Source link