BJP wants to dislodge Maha Aghadi government in Maharashtra, says CM Uddhav Thackeray | उद्धव ठाकरे ने साधा केंद्र पर निशाना, बोले- सरकार गिराने की कोशिशों में BJP

0
110

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने महा विकास आघाड़ी सरकार के प्रदर्शन को लेकर सवाल उठाने को लेकर बीजेपी (BJP) पर पलटवार किया है. सीएम ठाकरे ने कहा कि  विपक्षी पार्टी उनकी सरकार को ‘गिराने’ के प्रयास में इतना व्यस्त है कि उसे उनकी सरकार के विभिन्न कल्याणकारी कदमों पर गौर करने की फुर्सत नहीं है.

‘अघोषित आपातकाल’
ठाकरे ने महाराष्ट्र विधानसभा के शीतकालीन सत्र की पूर्व संध्या पर संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष देवेन्द्र फडणवीस पर उनके इस बयान को लेकर निशाना साधा कि राज्य में ‘अघोषित आपातकाल’ जैसे हालात हैं. सीएम उद्धव ठाकरे ने पूछा, ‘अगर महाराष्ट्र में अघोषित आपातकाल है तो दिल्ली और उसके आसपास जिस तरीके से प्रदर्शनकारी किसानों को निशाना बनाया जा रहा है, उस हिसाब से क्या देश के शेष हिस्से में भी घोषित आपातकाल लगा है?’

ये भी देखें- Farmers Protest: महिलाओं ने पीएम मोदी के खिलाफ की आपत्तिजनक नारेबाजी

प्रदर्शनकारियों को किसका समर्थन?
उन्होंने पूछा कि क्या कड़ाके की ठंड में किसानों पर पानी की बौछारें किया जाना सद्भावना का संदेश है. शिवसेना प्रमुख ठाकरे ने किसी का नाम लिये बिना, किसानों के प्रदर्शनों को ‘बदनाम’ किये जाने के प्रयासों की आलोचना की.
उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ‘बीजेपी को फैसला करना चाहिये कि क्या प्रदर्शनकारियों को पाकिस्तान, चीन और माओवादियों का समर्थन मिल रहा है. आप पाकिस्तान से चीनी और प्याज खरीदते हैं. क्या अब किसान भी पाकिस्तान से आने लगे.’

हाल ही में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goel) ने कहा कि यह आंदोलन अब किसानों का आंदोलन नहीं रह गया है क्योंकि ‘वामपंथी और माओवादी तत्व इनमें शामिल हो गए हैं’ और ‘राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों’ के लिये जेलों में बंद लोगों की रिहाई की मांग कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- Solar Eclipse 2020: कल लगेगा साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, जानें क्या करें और क्या न करें

केंद्रीय मंत्री के बयान पर हुआ था विवाद
इससे पहले महाराष्ट्र से संबंध रखने वाले भाजपा नेता तथा केन्द्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे के हालिया बयान से भी विवाद खड़ा हो गया था कि किसानों के आंदोलन के पीछे चीन और पाकिस्तान का हाथ है. ठाकरे ने कहा, ‘अगर फडणवीस कहते हैं कि राज्य सरकार का अपने आलोचकों के खिलाफ कार्रवाई करना अघोषित आपातकाल का कारण बन रहा है तो अपने अधिकारों के लिये संघर्ष कर रहे किसानों को राष्ट्रविरोधी कहना आपातकाल से भी बुरा है.’

ठाकरे ने कहा कि अन्नदाताओं को आतंकवादी कहने वाले लोग इंसान कहलाने के लायक नहीं हैं.

LIVE TV
 

Solar Eclipse 2020: कल लगेगा साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, जानें क्या करें और क्या न करें



Source link