HomeNEWSPunjabBaroda By-election: Haryana Cm Manohar Lal Targets On Congress - सीएम मनोहर...

Baroda By-election: Haryana Cm Manohar Lal Targets On Congress – सीएम मनोहर लाल बोले- कांग्रेस में जबरदस्त गुटबाजी, नामांकन से तीन घंटे पहले मिला उम्मीदवार


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़

Updated Fri, 16 Oct 2020 09:34 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बरोदा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव को लेकर भाजपा ने सबसे पहले अपना उम्मीदवार घोषित किया, जबकि कांग्रेस नामांकन भरने से महज तीन घंटे पहले ही अपना उम्मीदवार घोषित कर सकी। इससे विपक्ष की घबराहट का पता चलता है।

उन्होंने कहा कि एक राष्ट्रीय पार्टी के पास उपचुनाव के लिए उम्मीदवार तक नहीं है। एक पार्टी तो हमारे ही एक नेता को अपना उम्मीदवार बनाना चाहती थी और उनकी भी इच्छा चुनाव लड़ने की थी। लेकिन हमने ऐसे फिसलन भरे नेता को उम्मीदवार नहीं बनाया। पिछले चुनाव में भी हमारा प्रत्याशी दूसरे नंबर पर था और बहुत कम अंतर से चुनाव हारा था लेकिन इस बार हम जीत दर्ज करेंगे।

कांग्रेस में जबरदस्त गुटबाजी है और नामांकन के अंतिम समय से तीन घंटे पहले ही उम्मीदवार घोषित हुआ है। इससे पता लगता है कि कांग्रेस में आपसी खींचतान कितनी हावी है। कांग्रेस की हार का कारण स्वर्गीय विधायक कृष्ण हुड्डा के परिवार में टिकट न देना भी बन सकता है। हमारे छह साल के काम को बरोदा की जनता देख रही हैं और उसी के आधार पर हम वोट मांगेंगे। जजपा के बड़े नेताओं का नामांकन के वक्त मौजूद न रहने के सवाल पर सीएम ने कहा, अजय चौटाला और नैना चौटाला राष्ट्रीय स्तर के नेता हैं उन्हें बुलाया भी नहीं गया था। जो स्थानीय स्तर के नेता हैं, वे सभी वहां पर मौजूद थे।

गठबंधन सरकार और नारायणगढ़ में भाजपा रैली में हुए विरोध प्रदर्शन पर सीएम ने कहा लोकतंत्र में सबको विरोध का अधिकार है लेकिन इसकी सीमा पार नहीं होनी चाहिए। नारायणगढ़ में कुछ ग्रुप से जुड़े लोग सड़क पर आकर बैठ गए, ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। नारायणगढ़ की रैली में पुलिस प्रशासन की नाकामी पर सीएम बोले, जब तक प्रदर्शनकारी कोई गैर कानूनी कार्य नहीं करते, तब तक पुलिस भी कुछ नहीं कर सकती है, न ही ऐसी उनसे अपेक्षा की जाती है। लेकिन जब कोई कानून को अपने हाथ में लेता है तो फिर कार्रवाई की जाती है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बरोदा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव को लेकर भाजपा ने सबसे पहले अपना उम्मीदवार घोषित किया, जबकि कांग्रेस नामांकन भरने से महज तीन घंटे पहले ही अपना उम्मीदवार घोषित कर सकी। इससे विपक्ष की घबराहट का पता चलता है।

उन्होंने कहा कि एक राष्ट्रीय पार्टी के पास उपचुनाव के लिए उम्मीदवार तक नहीं है। एक पार्टी तो हमारे ही एक नेता को अपना उम्मीदवार बनाना चाहती थी और उनकी भी इच्छा चुनाव लड़ने की थी। लेकिन हमने ऐसे फिसलन भरे नेता को उम्मीदवार नहीं बनाया। पिछले चुनाव में भी हमारा प्रत्याशी दूसरे नंबर पर था और बहुत कम अंतर से चुनाव हारा था लेकिन इस बार हम जीत दर्ज करेंगे।

कांग्रेस में जबरदस्त गुटबाजी है और नामांकन के अंतिम समय से तीन घंटे पहले ही उम्मीदवार घोषित हुआ है। इससे पता लगता है कि कांग्रेस में आपसी खींचतान कितनी हावी है। कांग्रेस की हार का कारण स्वर्गीय विधायक कृष्ण हुड्डा के परिवार में टिकट न देना भी बन सकता है। हमारे छह साल के काम को बरोदा की जनता देख रही हैं और उसी के आधार पर हम वोट मांगेंगे। जजपा के बड़े नेताओं का नामांकन के वक्त मौजूद न रहने के सवाल पर सीएम ने कहा, अजय चौटाला और नैना चौटाला राष्ट्रीय स्तर के नेता हैं उन्हें बुलाया भी नहीं गया था। जो स्थानीय स्तर के नेता हैं, वे सभी वहां पर मौजूद थे।

गठबंधन सरकार और नारायणगढ़ में भाजपा रैली में हुए विरोध प्रदर्शन पर सीएम ने कहा लोकतंत्र में सबको विरोध का अधिकार है लेकिन इसकी सीमा पार नहीं होनी चाहिए। नारायणगढ़ में कुछ ग्रुप से जुड़े लोग सड़क पर आकर बैठ गए, ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। नारायणगढ़ की रैली में पुलिस प्रशासन की नाकामी पर सीएम बोले, जब तक प्रदर्शनकारी कोई गैर कानूनी कार्य नहीं करते, तब तक पुलिस भी कुछ नहीं कर सकती है, न ही ऐसी उनसे अपेक्षा की जाती है। लेकिन जब कोई कानून को अपने हाथ में लेता है तो फिर कार्रवाई की जाती है।



Source link

Must Read

spot_img
%d bloggers like this: