HomeNEWSPunjabArmy Public School Open In Haryana News: Special Plan To Open Army...

Army Public School Open In Haryana News: Special Plan To Open Army Schools In Haryana – कोरोनाः प्लान मंजूर हुआ तभी खुलेंगे देशभर के आर्मी स्कूल, माननी पड़ेगी सरकारों की गाइडलाइन



प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो : पीटीआई

<div class="epaper_pic"> 

    <a href="https://epaper.amarujala.com?utm_source=au&amp;utm_medium=article&amp;utm_campaign=esubscription"> &#13;




</div> 

<div class="image-caption"> 

    <h3>पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर <br/>&#13;


कहीं भी, कभी भी।

    <p>*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!</p>  



</div> 
ख़बर सुनें

देशभर में पंद्रह अक्टूबर से आर्मी पब्लिक स्कूलों को भी खोलने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए स्कूलों ने मुख्यालय को विशेष प्लान भेजा है। जिन स्कूलों के प्लान मंजूर होंगे, वही स्कूल बच्चों को बुला सकेंगे। इसके अलावा स्कूलों को कोविड-19 से संबंधित राज्य सरकारों की गाइडलाइंस भी माननी होंगी। देश के 137 आर्मी पब्लिक स्कूलों में से 29 स्कूल पंजाब (14) और हरियाणा (15) में चल रहे हैं। ये स्कूल दोनों सूबों के विभिन्न सैन्य छावनियों में मौजूद हैं। सेना मुख्यालय के अधीनस्थ आर्मी वेलफेयर एजुकेशन सोसायटी की देखरेख में इन स्कूलों को संचालित किया जा रहा है।

कोरोना महामारी के मद्देनजर सभी स्कूलों की तरह ये स्कूल भी अभी तक बंद हैं। मगर छात्रों को ऑनलाइन एजुकेशन देने के लिए इन स्कूलों में खास डिजिटल सेटअप लगाया गया है। अभी तक इसी सेटअप के जरिये आर्मी पब्लिक स्कूलों के छात्र ऑनलाइन ही शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

अब केंद्र सरकार की अनलॉक गाइडलाइंस के तहत बहुत से राज्य 15 अक्टूबर से अपने स्कूलों को खोलना चाहते हैं। इसी कड़ी में आर्मी स्कूल वेलफेयर सोसायटी भी 15 अक्टूबर से अपने स्कूल खोलने का विचार कर रही है। मगर इससे पहले सभी स्कूलों से एक खास प्लान मुख्यालय में मंगवाया गया है।

जिसमें सभी स्कूलों को ये बताना है कि वे किस तरह अपने स्कूल खोलेंगे, पहले कौन सी कक्षाओं को बुलाया जाएगा, छात्रों को कैसे पढ़ाया जाएगा, किस तरह कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन होगा, इत्यादि बातों को प्लान में शामिल किया गया है। जिन स्कूलों के प्लान को मुख्यालय की स्वीकृति मिलेगी, उन्हीं स्कूलों को खोलने की मंजूरी मिलेगी। मगर इसके साथ-साथ आर्मी स्कूलों को केंद्र सरकार के साथ-साथ संबंधित राज्य सरकारों की भी कोविड-19 निर्देशों को मानना पड़ेगा।

देशभर में पंद्रह अक्टूबर से आर्मी पब्लिक स्कूलों को भी खोलने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए स्कूलों ने मुख्यालय को विशेष प्लान भेजा है। जिन स्कूलों के प्लान मंजूर होंगे, वही स्कूल बच्चों को बुला सकेंगे। इसके अलावा स्कूलों को कोविड-19 से संबंधित राज्य सरकारों की गाइडलाइंस भी माननी होंगी। देश के 137 आर्मी पब्लिक स्कूलों में से 29 स्कूल पंजाब (14) और हरियाणा (15) में चल रहे हैं। ये स्कूल दोनों सूबों के विभिन्न सैन्य छावनियों में मौजूद हैं। सेना मुख्यालय के अधीनस्थ आर्मी वेलफेयर एजुकेशन सोसायटी की देखरेख में इन स्कूलों को संचालित किया जा रहा है।

कोरोना महामारी के मद्देनजर सभी स्कूलों की तरह ये स्कूल भी अभी तक बंद हैं। मगर छात्रों को ऑनलाइन एजुकेशन देने के लिए इन स्कूलों में खास डिजिटल सेटअप लगाया गया है। अभी तक इसी सेटअप के जरिये आर्मी पब्लिक स्कूलों के छात्र ऑनलाइन ही शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

अब केंद्र सरकार की अनलॉक गाइडलाइंस के तहत बहुत से राज्य 15 अक्टूबर से अपने स्कूलों को खोलना चाहते हैं। इसी कड़ी में आर्मी स्कूल वेलफेयर सोसायटी भी 15 अक्टूबर से अपने स्कूल खोलने का विचार कर रही है। मगर इससे पहले सभी स्कूलों से एक खास प्लान मुख्यालय में मंगवाया गया है।

जिसमें सभी स्कूलों को ये बताना है कि वे किस तरह अपने स्कूल खोलेंगे, पहले कौन सी कक्षाओं को बुलाया जाएगा, छात्रों को कैसे पढ़ाया जाएगा, किस तरह कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन होगा, इत्यादि बातों को प्लान में शामिल किया गया है। जिन स्कूलों के प्लान को मुख्यालय की स्वीकृति मिलेगी, उन्हीं स्कूलों को खोलने की मंजूरी मिलेगी। मगर इसके साथ-साथ आर्मी स्कूलों को केंद्र सरकार के साथ-साथ संबंधित राज्य सरकारों की भी कोविड-19 निर्देशों को मानना पड़ेगा।



Source link

Must Read

spot_img
%d bloggers like this: