हिमाचल में भारी बारिश का प्रकोप, दो दिन में 22 की मौत, उत्तराखंड को लेकर अलर्ट

0
256

नई दिल्ली, । Weather Update उत्तर भारत के कई इलाके भारी बारिश की चपेट में हैं। रविवार को हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और पंजाब में बारिश की वजह से कम से कम 40 से ज्यादा लोगों की मौत गई जबकि कई लोगों के लापता होने की खबर है। यमुना और उसकी सहायक नदियों का जलस्तर बढ़ने के कारण अब दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। इसके बाद इन सभी राज्यों में मौसम विभाग का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं यमुना नदी में हथिनी बैराज से 8 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद हरियाणा और दिल्ली में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है।

जम्मू और कश्मीर: तवी नदी के जल स्तर में अचानक वृद्धि के बाद जम्मू में एक पुल के पास फंस जाने के बाद दो लोगों को बचाया गया है।

दिल्ली: यमुना नदी के बढ़ते जलस्तर के कारण, नदी के ऊपर बने ‘लोहा पुल’ पर वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है। यमुना का जलस्तक जल स्तर 205 मीटर (चेतावनी स्तर 204.50 मीटर) पर पहुंच गया है।हथनी कुंड बैराज से छोड़े गए 8 लाख क्यूसेक से अधिक पानी के बाद दिल्ली में यमुना नदी खतरे के निशान को पार कर गई है। इस वजह से अब दिल्ली पर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है।

उत्तराखंड: बादल फटने के बाद उत्तरकाशी जिले के मकुड़ी गांव में 4 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 3 को बचाया गया और 1 लापता है। फिलहाल बचाव अभियान जारी है।

हिमाचल प्रदेश: हिमाचल प्रदेश के सीएम जय राम ठाकुर ने राज्य में बाढ़ की स्थिति पर कहा है कि पिछले 2 दिनों में यहां भारी बारिश हुई है। यहां बाढ़ के कारण 22 लोगों की मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि पूरे मानसून सीजन में बारिश के कारण मरने वालों की संख्या 42 है। राज्यों को 574 करो़ड़ रुपए का नुकसान हुआ है। इसको लेकर विस्तृत रिपोर्ट बाद में आएगी। फिलहाल बाढ़ की स्थिति में सुधार हो रहा है।