Saturday, February 24, 2024
HomeCrimeराजस्थान में ACB की ताबड़तोड़ कार्रवाई, पांच जिलों में रेड डाल 6...

राजस्थान में ACB की ताबड़तोड़ कार्रवाई, पांच जिलों में रेड डाल 6 रिश्वतखोर अफसरों को पकड़ा

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने राजस्थान के पांच जिलों में छापेमारी कर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई की (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने राजस्थान के पांच जिलों में छापेमारी कर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई की (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एंटी करप्शन ब्यूरो ने श्रीगंगानगर में एक पुलिस कॉन्स्टेबल को दस लाख की रिश्वत लेते ट्रैप किया है. वहीं उदयपुर में झल्लारा के एसएचओ समेत तीन लोगों को 35 हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. ACB ने अजमेर में एक ASI को 15 हजार लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. इसके अलावा झुंझुनू में भी पटवारी को 13 हजार रुपए लेते ट्रैप किया गया है


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 28, 2020, 11:07 AM IST

जयपुर. राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) ने भ्रष्टाचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की है. एसीबी की टीम ने राज्य के पांच अलग-अलग जिलों में कार्रवाई की. श्रीगंगानगर में एक पुलिस कॉन्स्टेबल को दस लाख की रिश्वत लेते ट्रैप किया है. वहीं उदयपुर में झल्लारा के एसएचओ समेत तीन लोगों को 35 हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. ACB ने अजमेर में एक ASI को 15 हजार लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. इसके अलावा झुंझुनू में भी पटवारी को 13 हजार रुपए लेते ट्रैप किया गया है.

एसीबी ने राजधानी जयपुर में परिवहन निरीक्षक के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में सर्चिंग की कार्रवाई की. डीजी बी.एल सोनी और एडीजी दिनेश एम.एन ने लोगों से कहा कि वो भ्रष्टाचारियों के खिलाफ हेल्पलाइन नंबर 1064 पर हमें सूचना दी.

कॉन्स्टेबल 10 लाख रुपए रिश्वत लेते जयपुर के होटल से गिरफ्तार 

एसीबी की जोधपुर टीम ने सोमवार की रात बड़ी कार्रवाई करते हुए एक पुलिस कॉन्स्टेबल को 10 लाख रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया. आरोपी कॉन्स्टेबल ने रिश्वत की यह राशि एनडीपीएस के आरोपी को उसके खिलाफ दर्ज मामले में मदद करने की एवज में ली थी. ब्यूरो ने जयपुर के एक होटल में कॉन्स्टेबल को ट्रैप किया. पुलिस ने लाखों की रकम को बरामद कर लिया है. फिलहाल आरोपी कॉन्स्टेबल से पूछताछ की जा रही है.ब्यूरो के मुताबिक आरोपी कॉन्स्टेबल नरेश चंद्र मीणा श्रीगंगानगर के जवाहर नगर थाने में तैनात है. भ्रष्टाचार के इस मामले में श्रीगंगानगर के जवाहर नगर थानाधिकारी राजेश कुमार सियाग की भी भूमिका बताई जा रही है. ब्यूरो की कार्रवाई की भनक लगने के बाद थानाधिकरी सियाग फरार हो गया. ब्यूरो ने उसे भी इस मामले में नामजद किया है.

पटवारी सरकारी रिकॉर्ड में मौत दर्ज करवाने के एवज में मांग रहा था 13 हजार

वहीं मंगलवार को ही झुंझुनू में एक पटवारी को 13 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया. ब्यूरो के झुंझुनू चौकी प्रभारी पुलिस उपअधीक्षक शब्बीर खान ने बताया कि परिवादी बजरंगलाल ने शिकायत दर्ज करवाई थी कि उसकी मां श्याना देवी ने अपने हिस्से की आधी भूमि परिवादी के बेटे वीरेंद्र सिंह के नाम रजिस्ट्री करवा दी थी. उनकी मौत होने के बाद इसे दर्ज करवाने के एवज में नयासर का पटवारी रणवीर जाखड़ 13 हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा है.



Source link

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments