HomeNEWSभारत में Covid 19 मामलों की जांच अमेरिका, जापान और इटली के...

भारत में Covid 19 मामलों की जांच अमेरिका, जापान और इटली के मुकाबले नहीं हो रही कम : ICMR

नई दिल्‍ली, । देश में कोरोना वायरस से निपटने और लॉकडाउन की स्थिति को लेकर गुरुवार को स्‍वास्‍थ्‍य, सूचना और प्रसारण गृह मंत्रालय की संयुक्‍त प्रेस कांफ्रेंस में हुई। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के डॉ. रमन आर गंगाखेडकर ने कहा कि रैपिड एंटी-बॉडी टेस्ट जल्दी निदान के लिए आयोजित नहीं किया जाता है, इसका उपयोग निगरानी के लिए किया जाता है। उन्‍होंने कहा कि आज तक हमने 2,90,401 लोगों का टेस्ट किया है इनमें से 30,043 लोग जिनका टेस्ट कल हुआ, उसमें 26,331 का टेस्ट ICMR नेटवर्क के 176 लैब में हुआ और 3,712 टेस्ट निजी लैब में हुए जिनकी संख्या 78 है। भारत में कम टेस्‍ट किए जाने के सवाल पर उन्‍होंने कहा कि भारत एक पॉजिटिव मामले के लिए 24 लोगों का टेस्‍ट  करता है। जबकि जापान 11.7, इटली 6.7, अमेरिका 5.3 टेस्‍ट रकता है।  हम नहीं कह सकते कि भारत टेस्‍ट कम कर रहा है।

325 जिले में कोई भी केस नहीं आया 

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि हमारी इस लड़ाई में अब तक फील्ड स्तर पर किए गए एक्शन के तहत 325 जिले ऐसे हैं जहां पर कोई भी केस नहीं आया है। ऐसे जिले जहां पहले केस आए थे लेकिन फील्ड एक्शन के द्वारा उनके नियंत्रण और ​कंटेनमेंट से संबंधित जो काम हुआ है उसके तहत पुडुचेरी में माहे एक ऐसा जिला है जहां पिछले 28 दिनों से कोई पॉजिटिव केस नहीं आया है। 17 राज्यों में ऐसे 27 जिले हैं जहां पिछले 14 दिनों से कोई पॉजिटिव केस नहीं आया है। हमारी मृत्यु दर अगर 3.3 प्रतिशत है तो जो लोग अब तक ठीक हुए हैं उसका प्रतिशत 12.02 के आसपास है।

ANI

@ANI

325 districts in India have no cases of COVID19: Lav Agrawal, Joint Secretary, Ministry of Health

Twitter पर छबि देखें
377 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

लव अग्रवाल ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री और राज्‍य मंत्री ने कल एक वीडियो कांफ्रेंसिंग आयोजित की, जिसमें विश्व स्वास्थ्य संगठन के स्वास्थ्य अधिकारी और क्षेत्र के अधिकारी शामिल थे। इसमें जिला स्तर पर COVID19 के क्‍लस्‍टरों और प्रकोप के लिए माइक्रो योजना पर चर्चा की गई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन की राष्ट्रीय पोलियो निगरानी नेटवर्क टीम की सेवाओं का उपयोग करते हुए हमारी चल रही निगरानी को मजबूत करने पर एक कार्य योजना तैयार की गई है।

3 मई तक हवाई, रेल और सड़कों से यात्रियों का आवागमन बंद

गृह मंत्रालय की संयुक्‍त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने कहा कि लॉकडाउन के अंतर्गत पूरे देश में 3मई तक हवाई, रेल और सड़कों से यात्रियों का आवागमन बंद रहेगा। टैक्सी, ऑटो रिक्शा, साइकिल रिक्शा सहित कैब की सेवाए प्रतिबंधित रहेंगी। सभी शैक्षणिक और संबंधित संस्थान बंद रहेंगे। सभी सिनेमा हॉल्स, मॉल्स, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स तथा इस प्रकार के अन्य संस्थान बंद रहेंगे। सभी सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक समारोह और अन्य सभाओं के आयोजन पर रोक रहेगी।

सभी जिलों में प्रवासी मजदूरों के लिए नोडल अफसरों की नियुक्ति के लिए कहा गया 

सूचना और प्रसारण मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा कि कैबिनेट सचिव ने सभी राज्य मुख्य सचिवों को प्रवासी मजदूरों और फंसे व्यक्तियों की सुरक्षा, रहने और खाद्य सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा है। उन्होंने राज्यों से प्रवासी मजदूरों की व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालने के लिए जिला कलेक्टरों द्वारा नोडल अधिकारियों की नियुक्ति करने के लिए कहा है।

लॉकडाउन के उल्लंघन के लिए जिम्मेदार पाए गए अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्रवाई    

MHA लॉकडाउन दिशानिर्देशों के उल्लंघन, लोगों के जमा होने, दुकानों और प्रतिष्ठानों के खुलने को रोजाना मॉनीटर कर रहा है। निगरानी और क्वारंटाइन के काम में जुटे हेल्थ वर्कर्स के खिलाफ हिंसा के मामलों का भी पता लगाया जा रहा है। गृह मंत्रालय ऐसे उल्लंघन के लिए जिम्मेदार पाए गए अधिकारियों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई करेगा।

Must Read

spot_img
%d bloggers like this: