बजरंग दल की चेतावनी, ‘पीटे’ जाएंगे Christmas पर चर्च जाने वाले हिंदू

0
17

नई दिल्लीः क्रिसमस आने में अब कुछ दिन ही बाकी रह गए हैं. देश में इस खास पर्व पर ईसाइयों के अलावा हिंदू समुदाय के लोग भी चर्च जाना पसंद करते हैं. ऐसे लोगों को बजरंग दल (Bajrang Dal) ने चेतावनी दी है. बजरंग दल के नेता मिठू नाथ ने चेतावनी दी है कि क्रिसमस (Christmas) पर चर्च जाने वाले हिंदुओं की ‘पिटाई’ होगी. यह बात हिंदू संगठन के नेता ने इस हफ्ते की शुरुआत में असम के सिलचर (Silchar) में आयोजित एक कार्यक्रम में कही. मिठू नाथ का वीडियो सोशल मीडिया पर भी काफी वायरल हो रहा है. 

क्रिसमस फेस्टिवल में नहीं हैं हिंदुओं को जाने की अनुमति
वीडियो में बजरंग दल के नेता कह रहे हैं कि क्रिसमस के जश्न में भाग लेने के लिए चर्च जाने वाले हिंदुओं को ‘पीटा’ जाएगा. कार्यक्रम के दौरान ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए गए. NDTV की रिपोर्ट के अनुसार, नाथ जो विश्व हिंदू परिषद की जिला इकाई के महासचिव हैं, उन्होंने शिलांग में विवेकानंद केंद्र (रामकृष्ण मिशन का एक भाग) के बंद होने पर नाराजगी जाहिर की और घोषणा की कि हिंदुओं को क्रिसमस फेस्टिवल में भाग लेने की अनुमति नहीं है.

मिठू नाथ ने कहा, ‘चर्च जाने वाले हिंदुओं को पीटा जाएगा क्योंकि मैं ऐसे हिंदुओं की आलोचना करता हूं, जो हमारे धार्मिक स्थलों को बंद करने वाले लोगों के क्रिसमस कार्यक्रम में जाएंगे और मजे करेंगे. कोई भी हिंदू इस क्रिसमस में चर्च नहीं जाएगा. हम यह सुनिश्चित करेंगे.’

ये भी पढ़ें-Tour पैकेज के साथ मिलेगी Corona की ‘डोज’, खर्च करने होंगे इतने रुपये

चर्च में गए हिंदू तो अगले दिन अखबारों में होंगी हैडिंग
नाथ ने कहा ‘अगर हम ऐसा करते हैं यानी हिंदुओं पर हमला करते हैं तो मुझे पता है कि अगले दिन अखबारों की हेडलाइन्स में होंगे, ‘गुंडा दल’ ने ओरिएंटल स्कूल में बर्बरता की है. लेकिन यह हमारी प्राथमिकता नहीं है. हम क्रिसमस के दौरान होने वाले कार्यक्रमों में हिंदुओं को जाने की अनुमति तब तक नहीं देंगे जब तक कि शिलांग में मंदिरों के ताले बंद हैं.’

ये भी पढ़ें-Covaxin लेने के बाद भी क्यों संक्रमित हुए Anil Vij? स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताई वजह

नाथ ने दावा किया है कि खासी स्टूडेंट यूनियन ने ‘मंदिर’ को बंद किया था. हालांकि, मेघालय सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने उनके दावे खारिज करते हुए कहा कि जिला अवकाश होने की वजह से एक सांस्कृतिक केंद्र का दरवाजा बंद किया गया था. उसमें तालाबंदी नहीं की गई थी. अधिकारी ने कहा कि रामकृष्ण मिशन के किसी भी मंदिर को बंद नहीं किया गया है. 

LIVE TV



Source link