Wednesday, October 27, 2021
Home NEWS निर्भया मामला: फांसी पर रोक की दोषियों की याचिका पर अदालत ने...

निर्भया मामला: फांसी पर रोक की दोषियों की याचिका पर अदालत ने तिहाड़ जेल को भेजा नोटिस

0
261
नयी दिल्ली : निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड के दोषियों की एक फरवरी को तय फांसी की सजा पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर दिल्ली की एक अदालत ने बृहस्पतिवार को तिहाड़ जेल प्रशासन को नोटिस जारी कर जवाब देने को कहा।  विशेष न्यायाधीश ए के जैन ने तिहाड़ जेल के अधीक्षक को शुक्रवार को सुबह 10 बजे तक इस याचिका पर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया। फांसी की सजा का सामना कर रहे तीन दोषियों- पवन गुप्ता, विनय कुमार शर्मा और अक्षय कुमार की ओर से पेश वकील ए पी सिंह ने अदालत से फांसी को अनिश्चितकाल के लिए टाल देने को कहा क्योंकि कुछ दोषियों के पास कानूनी उपाय उपलब्ध हैं। उन्होंने अदालत से कहा कि विनय की दया याचिका राष्ट्रपति के समक्ष लंबित है, वहीं दो अन्य दोषियों अक्षय तथा पवन भी कानूनी उपाय अपना रहे हैं।
संक्षिप्त सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष ने कहा कि आवेदन ‘न्याय का मजाक’ है और यह मामले में केवल देरी की चाल है। बचाव पक्ष के वकील की अर्जी में कहा गया, ‘‘पहले एक अन्य दोषी मुकेश कुमार सिंह की दया याचिका खारिज होने के बाद इस अदालत ने उसे राष्ट्रपति के निर्णय के खिलाफ अदालतों में जाने के लिए 14 दिन की अवधि प्रदान की थी। उन्होंने फांसी के लिए नयी तारीख तय करने की मांग करते हुए कहा, ‘‘अगर विनय शर्मा की दया याचिका भी खारिज हो जाती है तो कानून उसे दया याचिका खारिज होने की तारीख से फांसी की तारीख से पहले तक 14 दिन देता है। वकील ने कहा कि अक्षय और पवन फिलहाल कानूनी उपाय अपना रहे हैं। अक्षय की सुधारात्मक याचिका को शीर्ष अदालत गुरूवार को खारिज कर चुकी है, वहीं उसके पास अब भी राष्ट्रपति के समक्ष दया याचिका दाखिल करने का विकल्प है। अन्य दोषी पवन ने सुधारात्मक याचिका दाखिल नहीं की है। मुकेश और विनय के बाद अक्षय सुधारात्मक याचिका दाखिल करने वाला तीसरा दोषी है।
%d bloggers like this: