धूमधाम से नहीं होगा आयोजन, 12 विजेताओं का होगा सम्मान

0
27

नोबेल पुरस्कार समारोह का इस साल सादगी से आयोजन किया जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नोबेल पुरस्कार समारोह का इस साल सादगी से आयोजन किया जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Nobel Prize Ceremony 2020 Simply Organised: वैश्विक महामारी कोविड-19 (Covid-19 Pandemic) के मद्देनजर रस्मी कार्यक्रमों में कटौती की गयी है और स्टॉकहोम (Stockholm) या ओस्लो में भव्य तरीके से समारोह का आयोजन नहीं होगा. भव्य समारोह के बजाए सादे समारोह में पुरस्कार विजेताओं की उपलब्धियों का जिक्र किया जाएगा और इसका सीधा प्रसारण होगा.

स्टॉकहोम. कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार के कारण इस साल नोबेल पुरस्कार समारोह (Nobel Prize Ceremony) का सादगी से आयोजन होगा. वैश्विक महामारी कोविड-19 के मद्देनजर रस्मी कार्यक्रमों में कटौती की गयी है और स्टॉकहोम (Stockholm) या ओस्लो में भव्य तरीके से समारोह का आयोजन नहीं होगा. भव्य समारोह के बजाए सादे समारोह में पुरस्कार विजेताओं की उपलब्धियों का जिक्र किया जाएगा और इसका सीधा प्रसारण होगा.

इस साल 12 लोगों को मिला नोबेल पुरस्कार

वर्ष 2020 में नोबेल पुरस्कार के 12 विजेता हैं. नोबेल शांति पुरस्कार के इतिहास में यह चौथी बार है जब 300 से ज्यादा नामांकन हुए. कुछ पुरस्कार संयुक्त रूप से दिए गए हैं. पुरस्कार के तहत एक करोड़ क्रोना (11 लाख डॉलर) और प्रशस्ति पत्र एवं गोल्ड मेडल दिए जाएंगे.

महान वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल के नाम पर दिया जाता है पुरस्कारमहान वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की पुण्यतिथि पर 10 दिसंबर को स्टॉकहोम में परंपरागत रूप से धूमधाम और भव्य तरीके से समारोह का आयोजन होता है. शांति पुरस्कार का आयोजन पड़ोसी देश नार्वे की राजधानी ओस्लो में होता है.

साहित्य का नोबेल कवि लुइस ग्लूक को मिला है

इस बार साहित्य क्षेत्र का पुरस्कार अमेरिकी कवि लुइस ग्लूक को रविवार को दिया गया. स्वीडिस एकेडमी ने पुरस्कार की घोषणा करते हुए कहा कि लुईस को उनकी बेमिसाल काव्यात्मक आवाज के लिए ये सम्मान दिया गया है, जो खूबसूरती के साथ व्यक्तिगत अस्तित्व को सार्वभौमिक बनाता है. इस पुरस्कार के लिए ग्लूक के आवास के बगीचे में ही एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. ब्लैक होल्स (Blackholes) क्या है, इसे समझने की दिशा में काम करने के लिए तीन वैज्ञानिकों को वर्ष 2020 के लिए भौतिकी का नोबेल पुरस्कार दिया गया है. ये तीन वैज्ञानिक हैं- रोजर पेनरोसे, रीनहार्ड गेंजेल और एंड्रिया घेज.

ये भी पढ़ें: ब्रिटिश-भारतीय हरि शुक्ला को लगेगा फाइजर-बायोन्टेक का सबसे पहला टीका

UK: क्वीन एलिजाबेथ को सबसे पहले लगेगा टीका, मंगलवार से होगा मास वैक्सीनेशन

इस वर्ष के नोबेल पुरस्कार की घोषणा अक्टूबर में की गयी थी. नोबेल शांति पुरस्कार के लिए ओस्लो में डिजिटल तरीके से कार्यक्रम का आयोजन होगा. विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्ल्यूएफपी) ने भुखमरी दूर करने के लिए चलाए गए अपने अभियान के लिए इस साल का शांति पुरस्कार जीता है.

Source link