दिल्ली-NCR में बदला मौसम, तेज आंधी और बारिश के साथ कई जगह गिरे ओले

0
161

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में बृहस्पतिवार शाम मौसम में बदलाव आने के बाद तकरीबन एक घंटे तक धूल भरी आंधी चली। इसके बाद दिल्ली के साथ नोएडा, गुरुग्राम, फरीदाबाद, गाजियाबाद समेत दर्जनभर में शहरों में बारिश भी हुई। दिल्ली के कश्मीरी गेट के अलावा, गाजियाबाद के साहिबाबाद और वैशाली में बारिश के ओले भी  गिरे।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) ने पहले ही पूर्वानुमान जता दिया था कि रेवाड़ी, मुजफ्फरनगर, शामली, खतौली, हस्तिनापुर, मोदीनगर, मेरठ, पिलखुवा, हापुड़, गढ़मुक्तेश्वर, स्याना समेत दिल्ली में धूल भरी आंधी चलेगी और कहीं-कहीं बारिश होने के भी आसार हैं।

ANI

@ANI

Heavy rain and hailstorm hit part of Delhi, visuals from near Kashmere Gate.

एम्बेडेड वीडियो

125 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

मौसम में आए बदलाव के बाद शाम पांच बजे के बाद से नोएडा और ग्रेटर नोएडा में धूलभरी आंधी के साथ बारिश शुरू हो गई। इससे पिछले 3 दिन से जारी गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद है।

गुरुग्राम में भी तेज आंधी चलने से मौसम का मिजाज पूरी तरह बदल गया। गुरुग्राम में आई तेज आंधी के दौरान धूल मिट्टी के चलते शहर की सड़कें तब्दील गंदगी में तब्दील हो गईं। आसमान में कुछ देर के लिए बादल इस कदर छाए कि लोगों को दोपहिया और चार पहिया वाहनों की लाइट जलाकर सड़कों पर चलना पड़ा।

दिल्ली से सटे साहिबाबाद में पहले तेज आंधी आई और अब बारिश के साथ ओले भी गिरे।

पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर, मंडावली समेत ज्यादातर इलाकों में तेज़ आंधी चली और फिर बारिश भी हुई।

तेज आंधी के चलते दिल्ली के साथ ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद और गुरुग्राम में पेड़ों की टहनियों के सड़कों पर गिरने की खबरें मिली हैं।

वहीं, स्काईमेटर वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने पहले ही मौसम की भविष्यवाणी की थी कि बुधवार को नमी कम होने के कारण पश्चिमी विक्षोभ का असर ज्यादा देखने को नहीं मिला, लेकिन बृहस्पतिवार 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवा के साथ हल्की बारिश होने की भी संभावना है। शुक्रवार से आसमान साफ हो जाएगा। एक बार फिर गर्मी और तापमान बढ़ने लगेगा।

इससे पहले बादलों और सूरज की लुकाछिपी के बीच पश्चिमी विक्षोभ के असर से बुधवार को मौसम का मिश्रित रूप देखने को मिला। दिन में जहां तेज धूप खिली, वहीं शाम को बादल घिर आए। दक्षिणी दिल्ली में 20 से 25 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी हवा चली। देर रात को दिल्ली के विभिन्न इलाकों में बूंदाबांदी हुई। हालांकि इससे तापमान में कोई कमी नहीं आई। बृहस्पतिवार को भी कमोबेश ऐसी ही फिजा बनी रहेगी।

शुक्रवार से आसमान साफ हो जाएगा। इसके बाद गर्मी और तेज धूप लोगों को परेशान करेगी। बुधवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 36.5 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 26.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 44 से 73 फीसद रहा। पालम सबसे गर्म क्षेत्र रहा, जहां अधिकतम तापमान 37.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।