तेलंगाना की इस सीट पर उपचुनाव में रिकॉर्ड बहुमत से जीती TRS

तेलंगाना की हुजुराबाद सीट पर पार्टी ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत.

तेलंगाना की हुजुराबाद सीट पर पार्टी ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत.

TRS ने तेलंगाना (Telangana) हुजूराबाद (Huzurabad) का उपचुनाव (By election) भारी बहुमत से जीता. प्रत्याशी शनामपुरी सईदी रेड्डी ने 34624 वोटों के रिकॉर्ड मार्जिन से यह जीत दर्ज की.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 24, 2019, 7:45 PM IST

रमन कुमार पीवी

हैदराबाद. सत्ता में बैठी तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) पार्टी ने हुजूराबाद (Huzurabad) का उपचुनाव (By election) भारी बहुमत से जीत लिया है. पार्टी की प्रत्याशी शनामपुरी सईदी रेड्डी ने रिकॉर्ड मार्जिन से यह जीत दर्ज की है. उनके खिलाफ चुनाव में उतरीं तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी (टीपीसीसी) के अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी की पत्नी नालमदा पद्मावती रेड्डी चुनाव हार गई हैं.

सईदी रेड्डी को जहां 108004 वोट प्राप्त हुए वहीं पद्मावती रेड्डी को केवल 74638 वोट ही मिले. सईदी रेड्डी ने 34624 वोटों के अंतर से चुनाव में जीत हासिल की. टीआरएस पार्टी की प्रत्याशी सईदी वोटों की गणना के प्रारंभ होने के समय से ही आगे चल रही थीं. जबकि कांग्रेस प्रत्याशी वोटों की गिनती के दौरान टीआरएस पार्टी की प्रत्याशी से पीछे ही चलती रहीं और कभी भी उनकी वोटों की संख्या सईदी के वोटों से आगे नहीं निकल पाईं.

मतगणना के 22 चरणों में टीआरएस को प्रत्येक चरण में बहुमत मिलता रहा और अंत में सईदी ने शानदार जीत दर्ज की.  हुजूराबाद के इस चुनावी युद्ध में कुल 28 उम्मीदवार मैदान में उतरे थे. दिलचस्प बात यह थी कि निर्दलीय उम्मीदवार सपावत सुमन 2693 वोट पाकर तीसरे स्थान पर रहे.पीछे छूटीं अन्‍य पार्टियां
बीजेपी के प्रत्याशी कोटा रामा राव को 2621 वोट मिले वहीं तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के उम्मीदवार छावा किरणमय को 1827 मत हासिल हुए. इन दोनों की जमानत जब्त हो गई और उन्हें चौथा और पांचवां स्थान प्राप्त हुआ. राज्य में चल रही आरटीसी की हड़ताल के चलते राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि इस हड़ताल का प्रभाव हुजूरनगर के उपचुनावों पर पड़ा है. लेकिन यह टीआरएस के प्रत्याशी की जीत पर कोई प्रभाव नहीं डाल सका. टीआरएस की जीत पर पार्टी के कार्यकर्त्ता जश्न मना रहे हैं और मिठाईयां बाँट रहे हैं.

2009 का रिकॉर्ड टूटा
उत्तम कुमार रेड्डी हुजूराबाद से 2018 का चुनाव जीत कर विधायक बने थे. 2019 में लोकसभा चुनाव में वह नालगोंडा सीट से लोकसभा के लिए चुन लिए गए और उन्हें हुजूराबाद विधानसभा सीट से इस्तीफ़ा देना पड़ा. उत्तम कुमार द्वारा खाली की गई इस सीट पर उपचुनाव कराया गया. इसी बीच इस चुनाव ने एक ऐसे रिकॉर्ड को बनते हुए देखा क्योंकि हुजूराबाद सीट पर अब तक हुए चुनावों में 29194 का सर्वाधिक बहुमत 2009 के चुनावों में मिला था लेकिन सईदी ने इस बार के चुनावों में 34624 वोटों का बहुमत पाकर 2009 के रिकॉर्ड को ध्वस्त कर दिया है.

पिछले विधानसभा चुनावों में उत्तम कुमार रेड्डी ने टीआरएस के प्रत्याशी सईदी रेड्डी को 7466 वोटों के अंतर से हराया था. 2018 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी को 1555 वोट मिले थे और टीडीपी कांग्रेस के साथ गठबंधन में थी.

यह भी पढ़ें: हरियाणा की वह सीट, जहां 23 साल से जीत रहा केवल निर्दलीय प्रत्याशी, अग्निवेश भी रहे हैं यहां से MLA

Source link

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,427FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles

%d bloggers like this: