ट्विटर-फेसबुक ने फ्रांस हमले पर महातिर की पोस्ट हटाई, कहा- मुझे गलत समझा गया

0
20

फ्रांस में चर्च में हमले के बाद से पुलिस चौकन्ना हो गई है. फोटो: AP

फ्रांस में चर्च में हमले के बाद से पुलिस चौकन्ना हो गई है. फोटो: AP

मलेशिया के पूर्व नेता महातिर मोहम्मद (Mahathir Mohamad) ने फ्रांस में मुस्लिम चरमपंथियों (Islamic Extremism in France) द्वारा किए गए हमलों को लेकर की गई अपनी टिप्पणी पर विवाद उठने के बाद शुक्रवार को कहा कि उनकी बात को गलत समझा गया.

कुआलालंपुर. मलेशिया के पूर्व नेता महातिर मोहम्मद (Mahathir Mohamad) ने फ्रांस में मुस्लिम चरमपंथियों (Islamic Extremism in France) द्वारा किए गए हमलों को लेकर की गई अपनी टिप्पणी पर विवाद उठने के बाद शुक्रवार को कहा कि उनकी बात को गलत समझा गया. महातिर ने अपना पोस्ट हटाने के लिए ट्विटर (Twitter) और फेसबुक (Facebook) की भी आलोचना की. महातिर (95 वर्ष) ने बृहस्पतिवार को अपने ब्लॉग पर लिखा था कि ‘मुस्लिमों को पहले के नरसंहारों के लिए नाराज होने का और फ्रांस के लाखों लोगों की हत्या करने का अधिकार है.’

ट्विटर ने महातिर की टिप्पणी वाला ट्वीट हटा दिया और कहा कि यह हिंसा को महिमामंडित करता है. फ्रांस के डिजिटल मंत्री ने कंपनी से उसके प्लेटफॉर्म पर महातिर पर पाबंदी लगाने का भी अनुरोध किया है.

महातिर ने कहा- आलोचकों ने नहीं पढ़ा उनका पोस्ट

महातिर ने एक बयान में कहा कि मैं अपने ब्लॉग में लिखी गयी मेरी बात का गलत अर्थ निकाले जाने से निराश हुआ हूं. उन्होंने कहा कि आलोचकों ने उनका पूरा पोस्ट नहीं पढ़ा और उस वाक्य को नहीं पढ़ा जिसमें लिखा था, ‘लेकिन कुल मिलाकर मुस्लिमों ने ‘आंख के बदले आंख लेने’ वाले कानून को लागू नहीं किया है, फ्रांसीसियों को भी नहीं करना चाहिए. इसके बजाय उन्हें अपनी जनता को दूसरे लोगों की भावनाओं का सम्मान करना सिखाना चाहिए.’महातिर ने ट्विटर और फेसबुक पर लगाया ये आरोप

महातिर ने कहा कि उनके स्पष्टीकरण के बाद भी ट्विटर और फेसबुक ने उनकी टिप्पणियों को हटा लिया. उन्होंने इस कदम को आडंबरपूर्ण बताया. उन्होंने कहा कि एक तरफ उन्होंने पैगंबर मोहम्मद के अपमानजनक कार्टून दिखाने वालों का बचाव किया और उम्मीद करते हैं कि सारे मुसलमान बोलने तथा अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर आंख मूंदकर इसे स्वीकार कर लें.

ये भी पढ़ें: VIRAL VIDEO: क्या ब्राजील की जिंगू नदी में दिखा 50 फीट से बड़ा एनाकोंडा! 

PHOTOS: तुर्की और ग्रीस में भूकंप के जोरदार झटके, 22 मरे और 700 से ज्यादा घायल 

महातिर ने कहा कि दूसरी तरफ उन्होंने इस बात को जानबूझकर हटा लिया कि मुस्लिमों ने अतीत में उनके खिलाफ अन्याय का बदला लेने की बात कभी नहीं की.

Source link