टीवी शो में बाइबल के शब्‍द पर टिप्‍पणी का विवाद गरमाया, रवीना टंडन ने मांगी माफी

0
367

अमृतसर, । टीवी शो में पवित्र बाइबल के शब्‍द के बारे में विवादित टिप्‍पणी करने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। आरोप है कि टीवी शो में कॉमेडियन भारती सिंह, बॉलीवुड फिल्‍म निर्माता-निर्देशक फराह खान और बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन ने पवित्र बाइबल के एक शब्‍द के बारे में आपत्तिजनक टिप्‍पणी की थी। इसके बाद पंजाब के अजनाला पुलिस थाने में ईसाई संगठनों ने तीनों के खिलाफ एफआरआइ दर्ज कराई है। विवाद के गरमाने के बाद अभिनेत्री रवीना टंडन ने ट्वीट कर माफी मांगी है।
क्रिश्चियन फ्रंट के अध्यक्ष सोनू जाफर बोले, ट्वीट पर माफी नहीं, अजनाला थाने में आकर तीनों माफी मांगें
आरोप है कि कुछ दिन पहले तीनों ने एक चैनल पर प्रसारित कॉमेडी कार्यक्रम के दौरान पवित्र बाइबल के एक शब्‍द को लेकर यह टिप्‍पणी की थी। ईसाई संगठनों ने चार दिन पहले अजनाला पुलिस थाने में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में केस दर्ज करवाया था।
रवीना टंडन ने ट्वीट किया, ‘कृपया इस लिंक को देखें। हमारा मकसद किसी भी तरह से ईसाई भाईचारे की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था। फिर भी अगर ऐसा हुआ है तो उसके लिए माफी चाहती हूं।’ वहीं दूसरी तरफ ईसाई समुदाय के कुछ लोगों ने अकाली नेताओं के साथ रोष प्रदर्शन कर गिरफ्तारी की मांग की।
क्रिश्चियन फ्रंट के अध्यक्ष व पंजाब कांग्रेस कमेटी के महासचिव सोनू जाफर ने कहा कि ट्वीट पर माफी को नहीं मानते। वह कानूनी लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि तीनों को अजनाला पुलिस स्टेशन में आकर माफी मांगनी चाहिए।
तीनों के खिलाफ प्रदर्शन, पुतला भी फूंका
ईसाई समुदाय ने शुक्रवार को यहां अभिनेत्री रवीना टंडन, फिल्म निर्माता फराह खान और कॉमेडियन भारती सिंह के खिलाफ सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया। इस दौरान तीनों का पुतला भी फूंका गया और सरकार से मांग की कि तीनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

फराह खान, भारती सिंह और अभिनेत्री रवीना टंडन के खिलाफ जालंधर में भी ईसाई समुदाय के लोग सड़क पर उतरे। तीनों के खिलाफ धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में अमृतसर के अजनाला थाने में केस दर्ज होने के बाद गुरदासपुर के कस्बा कलानौर, फिरोजपुर और अमृतसर में समुदाय के लोगों ने प्रदर्शन किया। अमृतसर के गुमटाला बाईपास स्थित सेंट मैरी चर्च में ईसाई समुदाय ने प्रदर्शन के दौरान तीनों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की।
अमृतसर में ईसाई समुदाय के नेता डॉ. सुभाष थोबा ने कहा कि फराह, रवीना व भारती ने पावन शब्द का अपमान किया है। दुनिया भर में बसे ईसाई इस घटना से आहत हैं। भारत में सभी धर्मों का मान-सम्मान होता है। ईसाई समुदाय भी हर धर्म का सम्मान करता है। हम यह कभी सहन नहीं करेंगे कि हमारे धर्म के खिलाफ आपत्तिजनक प्रचार किया जाए।