जन्मदिन पर छलका रणधीर कपूर का दर्द, ऋषि कपूर के बाद राजीव कपूर की मौत से हैं बेहद उदास !

0
25

मुंबई: 70-80 के दशक में अपने अभिनय से बड़े पर्दे पर धूम मचाने वाले रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) के नाम हिट फिल्मों की फेहरिश्त है. रणधीर कपूर अपने 74वें जन्मदिन (Birthday) पर खुद को बेहद अकेला महसूस कर रहे हैं. बीते 9 फरवरी को अपने भाई राजीव कपूर को खो देने का दर्द उन्हें बुरी तरह साल रहा है. रणधीर कपूर के दोनों छोटे भाई अब दुनिया में नहीं हैं. पिछले साल ऋषि कपूर नहीं रहें और इस साल मात्र 58 साल की उम्र में राजीव कपूर की मौत दिल का दौरा पड़ने से हो गई.

टाइम्स से बातचीत करते हुए रणधीर कपूर ने अपना दर्द बयां किया. अपने दोनों भाइयों के बेहद करीब रहे रणधीर ने बताया कि ‘मैंने अपने परिवार के 4 लोगों को खो दिया. मेरी मां कृष्णा राज कपूर, बड़ी बहन रितु नंदा उसके बाद ऋषि और अब राजीव’. अब अपने दोनों भाइयों के चले जाने के बाद रणधीर खुद को बेहद अकेला महसूस कर रहे हैं.

फिल्म जगत के महान हस्ती के घर पैदा हुए रणधीर कपूर ने एक बाल कलाकार के तौर पर काम करना शुरु कर दिया था. डब्बू के नाम से मशहूर रणधीर हमेशा अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर सुर्खियों में रहे. एक्ट्रेस बबीता संग उनकी अफेयर की खबरें खूब सुर्खियों में रही. बबीता के साथ रणधीर कपूर ने फिल्म ‘कल आज और कल’ किया था. इस फिल्म की शूटिंग के दौरान ही दोनों में नजदीकियां आई. धीरे धीरे जब प्रेम परवान चढ़ा तो इन्होंने अपनी रील लाइफ को रियल लाइफ में बदलने का फैसला कर लिया. हांलाकि दोनों के ही परिवार वाले इस शादी के खिलाफ थे. उस समय कपूर परिवार की बेटी बहू को फिल्मों में काम करने की इजाजत नहीं थी. राजकपूर इसी शर्त पर शादी करने के लिए माने कि बबीता फिल्मों से नाता तोड़ लेंगी.

लेकिन समय का फेर कुछ ऐसा हुआ कि आज रणधीर और बबीता की बेटियां करिश्मा कपूर, करीना कपूर बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस में शुमार है. रणधीर की फिल्में ‘जवानी दीवानी’, ‘हाथ की सफाई’,’रामपुर का लक्ष्मण’, ‘खलीफा’, ‘कच्चा चोर’, ‘भंवर’, ‘हमराही’, ‘चाचा भतीजा’ ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की थी. रणधीर कपूर के चहेते गायक किशोर कुमार थे. वह अपनी फिल्मों में किशोर दा की ही आवाज लेते रहे. ‘गुम है किसी के प्यार में दिल सुबह शाम’  इस जोड़ी के उन हिट गानों में से एक है जो आज भी गुनगुनाया जाता है.



Source link