खार फ्लैट का मामला: कंगना रनौत ने वापस लिया बॉम्बे हाईकोर्ट में दायर अपनी याचिका

0
17

मुंबई. बीएमसी (BMC) द्वारा बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के खार वाले फ्लैट के अंदर अवैध कंस्ट्रक्शन को तोड़ने के नोटिस के खिलाफ दायर याचिका को वापस ले लिया गया है. यह फैसला खुद कंगना द्वारा लिया गया है. दरअसल, आज सुनवाई दौरान कंगना के वकीलों ने इसकी जानकारी हाईकोर्ट को दी. फ्लैट के अंदर हुए अवैध कंस्ट्रक्शन को वैध करने के लिए कंगना अब बीएमसी में करेंगी अप्लाई. इस जानकारी के बाद कोर्ट ने कहा कि कंगना की एप्लिकेशन पर बीएमसी को चार सप्ताह के अंदर अपना फैसला देना होगा, तब तक के लिए तोड़क कार्रवाई पर लगी रोक जारी रहेगी.

अगर बीएमसी का आदेश कंगना के खिलाफ जाता है, तो बीएमसी कंगना को आदेश के खिलाफ अपील करने के लिए 2 सप्ताह का वक्त देगी, यानी फैसला कंगना के विरुद्ध जाने पर भी दो सप्ताह तक बीएमसी कोई कार्रवाई नहीं करेगी. बता दें, पहले कंगना रनौत के पाली हिल वाले दफ्तर में किए गए कथित अवैध निर्माण को लेकर बीएमसी ने बुलडोजर चलाया था. इसके बाद बीएमसी ने मुंबई के खार स्थित कंगना के (फ्लैट) घर के अंदर किए गए कथित अवैध निर्माण को लेकर भी नोटिस भेजा था.

इस मामले में बीएमसी का कहना था कि कंगना के दफ्तर के मुकाबले उनके घर में बीएमसी के नियमों का और भी ज्यादा उल्लंघन किया गया है. बता दें, कंगना रनौत मुंबई के खार वेस्ट स्थित के 16 नंबर रोड के एक इमारत DB Breeze (Orchid Breeze) के 5वें मंजिल पर रहती हैं. इस मंजिल पर कंगना के कुल 3 फ्लैट हैं, जिनमें से एक फ्लैट 797 sqft + दूसरा फ्लैट 711sqft और तीसरा फ्लैट 459 sqft का है. यह तीनों फ्लैट्स कंगना के नाम पर 8 मार्च 2013 में रजिस्टर्ड हुए हैं. बीएमसी का कहना है कि कंगना के फ्लैट लेने के पांच साल बाद 13 मार्च 2018 में उसे इन फ्लैट्स के अंदर किए गए अवैध निर्माण की शिकायत प्राप्त हुई थी.



Source link