कोरोना से भारत में दूसरी मौत / गाइडलाइंस जानने के लिए दिल्ली की 69 साल की महिला का क्रिमेशन रोका गया, बाद में सीएनजी शवदाह गृह में अंतिम संस्कार हुआ

0
136
  • महिला का बेटा इटली और स्विट्जरलैंड से लौटा था, वह भी कोरोना से संक्रमित था, महिला हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज की भी मरीज थी
  • 12 मार्च को कर्नाटक में कोरोनावायरस के संक्रमण से 76 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई थी; दिल्ली में 31 मार्च तक स्कूल-कॉलेज और सिनेमा बंद

नई दिल्ली. देश में शुक्रवार को कोरोनावायरस से मौत का दूसरा मामला सामने आया था। दिल्ली में संक्रमण की शिकार 69 वर्षीय महिला की मौत हो गई थी। महिला का शनिवार को दिल्ली के निगमबोध घाट पर अंतिम संस्कार हुआ। हालांकि, निगमबोध घाट प्रशासन ने पहले अंतिम संस्कार रोक दिया था। वहां के कर्मचारी कोरोनावायरस से जान गंवाने के मामले में अंतिम संस्कार को लेकर डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइंस जानना चाहते थे। अस्पताल प्रशासन भी शुरुआत में शव सौंपने के पक्ष में नहीं था। परिवार चाहता था कि निगमबोध घाट पर लकड़ियों से अंतिम संस्कार किया जाए, लेकिन एमसीडी के अफसरों की सलाह थी कि लोधी रोड इलेक्ट्रिक शवदाह गृह पर अंतिम संस्कार कराएं। बाद में अस्पताल के डॉक्टरों और एमसीडी के अफसरों की मौजूदगी में निगमबोध घाट पर ही सीएनजी शवदाह गृह में महिला का अंतिम संस्कार हुआ।

दिल्ली में जिस महिला की संक्रमण से मौत हुई, वह डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर की भी मरीज थी। उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया था। उनका बेटा 5 से 22 फरवरी के बीच इटली और स्विट्जरलैंड की यात्रा पर था। वह 23 फरवरी को भारत वापस लौटा था। उसे भी कफ और सर्दी की शिकायत थी, रिपोर्ट में वह भी कोरोनावायरस से संक्रमित पाया गया था। वह अभी भी अस्पताल में ही भर्ती है। इससे पहले 12 मार्च को कर्नाटक में 76 वर्षीय बुजुर्ग की मौत संक्रमण के चलते हुई थी।

दिल्ली में संक्रणण के अब तक सात मामले सामने आ चुके हैं।

महिला और उसके बेटे दोनों को अस्पताल में भर्ती किया गया था
डॉक्टरों ने बताया कि महिला के बेटे को 7 मार्च को अस्पताल में भर्ती किया गया था। प्रोटोकॉल के चलते उसके पूरे परिवार की स्क्रीनिंग की गई थी। जिसके बाद महिला में भी कफ और बुखार के लक्षण नजर आए। इसके बाद उसे भी भर्ती किया गया। 8 मार्च को महिला के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। हालत बिगड़ने पर उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया। 9 मार्च के बाद उन्हें सांस लेने में परेशानी हो रही थी। 13 मार्च को ज्यादा हालत बिगड़ने से महिला की मौत हो गई।

दिल्ली में स्कूल-कॉलेज बंद, कोरोना महामारी घोषित
केजरीवाल सरकार ने भी कोरोनावायरस को महामारी घोषित किया है। यहां 31 मार्च तक स्कूल-कॉलेज और सिनेमा हॉल बंद रहेंगे। खेल से जुड़े सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं। जवाहरलाल नेहरू और जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी ने 31 मार्च तक सभी शैक्षणिक गतिविधियों पर रोक लगा दी है। परीक्षाएं, लेक्चर, कॉन्फ्रेंस, सेमिनार और वर्कशॉप रद्द कर दिए हैं। राष्ट्रपति भवन संग्रहालय परिसर को आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया है।