उच्च स्तरीय बैठक / चीफ जस्टिस की सुरक्षा महज कागजी, कोई भी सेल्फी ले सकता है; पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश

0
225

सीजेआई की सुरक्षा पर गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, इंटेलिजेंस ब्यूरो और दूसरी सुरक्षा एजेंसियों के बीच बैठक
सीजेआई के काफिले को सुरक्षित पार्किंग देने, भीड़ में नजदीकी सुरक्षा घेरा बनाने औरसुरक्षा टीम तैनात करने के निर्देश

नई दिल्ली. गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, इंटेलिजेंस ब्यूरो औरदूसरीसुरक्षा एजेंसियों ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की कमजोर सुरक्षा व्यवस्था पर गंभीर चिंता जाहिर की है।

दिल्ली पुलिस के संयुक्त पुलिस आयुक्त (सुरक्षा) आईडी शुक्ला ने कहा, “उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक में पाया गया कि चीफ जस्टिस की सुरक्षा व्यवस्था कागजी है। लोग उनके करीब पहुंचकर माला पहना रहे हैं या उनके साथ सेल्फी ले रहे हैं। इसे बिल्कुल उचित नहीं कहा जा सकता और इस पर तुरंत रोक लगाई जानी चाहिए।”

सुरक्षा एजेंसियों को अतिरिक्त सावधानी बरतने के निर्देश

बैठक के बाद, चीफ जस्टिस की सुरक्षा से जुड़ी सभी एजेंसियों से उनके काफिले को सुरक्षित पार्किंग उपलब्ध कराने, निकटवर्ती सुरक्षा टीम तैनात करने और नजदीकी सुरक्षा घेरा बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

दिल्ली पुलिस की तरफ से जारी एजवाइजरी में वर्तमान हालात के मद्देनजर सभी सुरक्षा एजेंसियों को अतिरिक्त सावधानी बरतने को कहा गया है, ताकि महत्वपूर्ण व्यक्तियों की सुरक्षा में कोई चूक न रहे।

हाल ही में कुछ ऐसी घटनाएं सामने आई हैं, जब भीड़ में मौजूद लोगों ने चीफ जस्टिस के करीब पहुंचकर उनके साथ सेल्फी लेनी शुरु कर दी थी। इसके बाद सुरक्षा को लेकर यह उच्च स्तरीय बैठक बुलाई गई थी।